बीच रास्ते, सडक़ किनारे, पार्क व ग्रीन बेल्ट में मलबा डालने पर होगी कार्रवाई:राहुल नरवाल

321
SHARE
शहर की सुंदरता के लिए नगर परिषद ने शुरु किया कचरा उठाने का अभियान
सडक़ों के किनारे निर्माण सामग्री डालने पर भी नप करेगा कार्रवाई
भिवानी, 16 दिसम्बर। सडक़ किनारे, बीच रास्ते, पार्क या ग्रीन बेल्ट में मकान का मलबा, किसी भी प्रकार का कचरा डालने पर नगर परिषद कार्रवाई करेगा। नगर परिषद प्रशासन द्वारा वीरवार से कचरा आदि उठाने का अभियान शुरु कर दिया गया है। नगर परिषद ने कोर्ट के सामने से गुजरने वाले रोड़ के साथ डाले गए कचरे का उठान करवाया। सडक़ों के किनारे या बीच रास्ते भवन निर्माण सामग्री डालकर रास्ता बाधित करने वालों के खिलाफ भी नगर परिषद प्रशासन कार्रवाई करेगा।
उल्लेखनीय है कि लोगों द्वारा ग्रीन बेल्ट, सडक़ किनारे, पार्क आदि के पास मकान का मलबा डाल दिया जाता है, जिससे शहर बदसूरत नजर आता है। इसी प्रकार से लोगों द्वारा भवन निर्माण सामग्री भी सडक़ के बीच डाल दी जाती है, जिससे रास्ता बाधित होता है। जिला प्रशासन द्वारा लोगों से समय-समय पर मलबा या भवन निर्माण सामग्री नहीं डालने की अपील की जाती है, लेकिन फिर भी लोग मलबा आदि डालने से बाज नहीं आ रहे हैं। ऐसे में जिला प्रशासन अब सख्त हो गया है और नगर परिषद द्वारा कार्रवाई करनी शुरु कर दी है।
नगर परिषद द्वारा वीरवार को बासिया भवन से कोर्ट परिसर के सामने से चिडिय़ाघर रोड़ को जाने वाली सडक़ पर अभियान चलाया। इस दौरान नगर परिषद ने जेसीबी की सहायता से कोर्ट परिसर के सामने पड़े मकान के मलबे को उठाया।
इस बारे में अतिरिक्त उपायुक्त एवं डीएमसी राहुल नरवाल ने बताया कि लोगों द्वारा सडक़ किनारे, पार्क, ग्रीन बेल्ट या सरेराह मलबा/कचरा आदि डालने से शहर बदसूरत नजर आता है। लोगों से बार-बार मलबा आदि नहीं डालने की अपील की जा रही है, लेकिन लोग फिर भी मलबा डाल देते हैं। उन्होंने बताया कि यदि कोई मलबा आदि डालता मिलता है तो उनके विरूद्ध सख्त कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने बताया कि सडक़ के किनारे या बीच सडक़ पर भवन निर्माण आदि सामग्री मिलती है तो नगर परिषद द्वारा उसे जब्त किया जाएगा।
बॉक्स
हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण ने भी नागरिकों से अपील
हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण ने भिवानी में सेक्टर निवासियों व अन्य आमजन से अपील की है कि वे सेक्टरों के खाली प्लाटों, पार्क, ग्रीन बेल्ट आदि में मकान का मलबा न डालें। इसी प्रकार से सडक़ के बीच मकान निर्माण सामग्री न डालें, जिससे कि रास्ता बाधित हो। हुडा के एसडीओ धर्मबीर बूरा ने बताया कि हुडा के रिहायशी या औद्योगिक क्षेत्र में मलबा डालने वालों पर विभाग द्वारा कार्रवाई की जाएगी।