प्रेमी ने पीछा छुड़ाने के लिए की आशा वर्कर की हत्या

773
SHARE

करनाल।

एक प्रेमी ने अपनी प्रेमिका से छुटकारा पाने के लिए उसकी हत्या करके उसके शव को बोरी में डाल कर नाले में फेंक दिया था। मामले का खुलासा आरोपी ने खुद पुलिस पूछताछ में किया। फिलहाल आरोपी पुलिस की गिरफ्त में है। आरोपी को पुलिस अदालत में पेश कर रिमांड पर लेकर पूछताछ करेगी। गुरुवार दोपहर बाद रेनू के शव का पोस्टमार्टम करवा शव परिजनों को सौंप दिया।

वहीं परिजनों ने आज आरोप लगाए कि अकेला आरोपी रविन्द्र रेनू की हत्या नहीं कर सकता। इस वारदात में और भी लोग शामिल हैं। परिजनों ने पुलिस की कार्रवाई पर सवाल उठाते हुए कहा की जब रेनू लापता हुई थी तो सेक्टर 2 चौकी पुलिस को शिकायत दी थी। उस समय पुलिस ने पूछताछ के लिए आरोपी रविन्द्र को बुलाया गया था। जिसके बाद में छोड़ दिया गया। आरोपी ने दो माह पहले ही अपने अन्य साथियों के साथ मिलकर रेनू की गला दबाकर हत्या कर थी। अब जब CIA-1 के पास मामले की जांच की आरोपी ने रेनू की हत्या करने का खुलासा किया है।

न्यू प्रीतम नगर की रहने वाली एक आशा वर्कर रेनू मूल रूप से समालखा की रहने वाली थी। वर्ष 2005 में न्यू प्रीतम नगर के रहने वाले परविंद्र के साथ रेनू के शादी हुई थी। दो माह पहले रेनू 19 सितंबर को अपने घर से सुबह साढ़े आठ बजे कोट मोहल्ला के पास रामगली डिस्पेंसरी में ड्यूटी के लिए अपनी स्कूटी पर निकली थी और घर पर अपने पति को बोलकर गई थी कि वह 10 बजे तक वापस जाएगी लेकिन जब सायं पांच बजे तक भी वह घर वापस नहीं पहुंची।

CIA-1 के जांच अधिकारी जयपाल ने बताया कि वीरवार दोपहर को रेनू के शव का पोस्टमार्टम करवा शव परिजनों को सौंप दिया है। आरोपी को शाम को अदालत में पेश कर पुलिस रिमांड पर लिया जाएगा। रिमांड के दौरान आरोपी से गहनता से पूछताछ की जाएगी।

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करेSubscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal