भिवानी: गौरक्षकों ने मृत बछड़े के साथ विधायक आवास पर डाला डेरा

160
SHARE

 

गौवंश की मौत के आरोपियों पर मुकदमा दर्ज होने पर विधायक आवास पर जारी रखेंगे धरना : परमार प्रशासन व पशु चिकित्सकों के सहयोग ना करने से गुस्साएं गौरक्षकों ने गौसेवा ना करने का लिया फैसला

भिवानी :

भिवानी जिला प्रशासन व भिवानी के पशु चिकित्सकों के सहयोग ना करने से गुस्साएं एवं गौवंश की मौत से आहत गौरक्षकों ने बड़ा फैसला लिया है कि अब से गौरक्षक बेहसहारा जानवर का ईलाज नहीं करेंगे। अब पशुपालन विभाग पूरी तरह से अपनी जिम्मेवारी संभालते हुए सरकार के गाय बचाने की मुहिम को आगे बढ़ाए। यह बात गौरक्षा दल के प्रधान संजय परमार ने भिवानी के विधायक आवास के समक्ष बछड़े के शव के साथ जारी गौरक्षकों के धरने को संबोधित करते हुए कही। परमार ने आरोप लगाया कि बीते दिन गौरक्षकों द्वारा ईलाज के लिए पशु चिकित्सालय लाई गई घायल गायों को पशुपालन विभाग के कर्मचारियों द्वारा पशु चिकित्सालय से बाहर खदेड़ा गया तथा एक घायल बछड़े को घसीटते हुए बाहर लाया, जिस दौरान उसकी मृत्यु हो गई।

परमार ने कहा कि जब तक आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज नहीं हो जाता, उनका धरना विधायक आवास के समक्ष जारी रहेगा। परमार ने कहा कि गौरक्षक सिर्फ गौसेवा के भाव के भाव से नि:स्वार्थ सेवा करते है और यदि पशुपालन विभाग भिवानी के उपनिदेशक डॉ. सुखदेव राठी चाहते है कि गौरक्षक सेवा ना करे तो वे ऐसा ही करेंगे। उन्होंने आमजन से अपील करते हुए कहा कि यदि किसी घायल जानवर की सूचना देनी हो तो गौरक्षकों की बजाए उपायुक्त कैंप ऑफिस नंबर 01664-243333 पर या उपनिदेशक डॉ. सुखदेव राठी को दे। परमार ने कहा कि जब पशु चिकित्सकों को घायल जानवरों बारे सूचना दी जाती है तो उन्हे कहा जाता है कि घायल जानवरों को पशु चिकित्सालय लाएं तथा जब घायल जानवरों को पशु चिकित्सालय लाया जाता है तो उनका ईलाज करने की बजाए जानवरों को मौत के घाट उतारा जाता है। परमार ने कहा कि वे आज तक अधिकारियों केे सहयोग के बगैर गौवंश की सेवा करते आ रहे थे, लेकिन अब अधिकारी पूरी तरह से अपनी मनमानी पर उतर आए है तथा घायल जानवरों का ईलाज करने की बजाए उन्हे मारने का काम कर रहे है, जिसे गौसेवक कतई बर्दाश्त नही करेंगे। गौरक्षकों ने चेतावनी देते हुए कहा कि जब बछड़े की मौत के जिम्मेवार आरोपियों पर मुकदमा दर्ज नहीं हो जाता, तब तक वे विधायक आवास पर ही अपना धरना जारी रखेंगे। इस अवसर पर दीपक भारद्वाज, कुकी परमार, दीपक तोमर, अक्षय तंवर, मोहन, रविंद्र भारद्वाज, सुनील, जितेंद्र, वरूण बजरंगी, अमित, आदित्य, परमवीर, भानु, सुरेश सैनी, कमल बजरंगी, आशीष सहित अनेक गौरक्षक मौजूद रहे।

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करेSubscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal