भिवानी: आईटीआई का प्राचार्य रिश्वत लेते काबू

425
SHARE

भिवानी ।

राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान के प्राचार्य अनिल यादव को भ्रष्टाचार अधिनियम के तहत पकड़े जाने पर स्टेट विजिलेंस ब्यूरो हिसार के निरीक्षक अजीत गिल ने बताया कि आरोपी प्राचार्य से 12 हजार रुपये की राशि बरामद हुई है। स्टेट विजिलेंस ब्यूरो को हरियाणा कौशल रोजगार निगम के तहत लगे एक चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी विकास कुमार ने शिकायत दी थी कि आईटीआई का प्राचार्य यहां पर लगे छह कर्मचारियों से प्रति माह दो हजार रुपये की उगाही कर रहा है। पैसे न देने पर उनके खिलाफ कार्रवाई की धमकी देता है।

प्राचार्य के शोषण से तंग होकर कर्मचारियों का प्रतिनिधित्व कर रहे विकास कुमार ने राज्य चौकसी ब्यूरो हिसार को शिकायत दी। जिसके बाद राज्य चौकसी ब्यूरो के निरीक्षक अजीत गिल की टीम भिवानी पहुंची और विकास को पाउडर लगे 12 हजार रुपये लेकर प्राचार्य द्वारा बताई गई जगह पर भेजा। जैसे ही प्राचार्य ने आईटीआई के रेस्ट हाउस में विकास से रिश्वत के 12 हजार रुपये पकड़कर अपनी जेब में डाले तुरंत टीम ने पहुंचकर उसके हाथ धुलवाए तो उसकी जेब और हाथ दोनों का रंग गुलाबी हो गया। विजिलेंस निरीक्षक ने बताया कि आरोपी प्रचार्य अनिल कुमार यादव के खिलाफ भ्रष्टाचार अधिनियम की धारा 384 व 7-पीसी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर आगामी कार्रवाई शुरू कर दी है।

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करेSubscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal