भिवानी :15 अगस्त पर गैंगवार करने की फिराक में थे लॉरेंश के गुर्गे, 5 काबू

1266
SHARE

 भिवानी।

जिला पुलिस के द्वारा स्वतंत्रता दिवस पर हाई अलर्ट पर होने के कारण जिले में बड़ी हत्या की वारदात को किया नाकाम, पुलिस टीम के द्वारा आरोपियों से 03 पिस्तौल, 70 जिंदा कारतूस, 03 मैगजीन किए बरामद। पकड़े गए पांच आरोपियों में से तीन आरोपी जिला भिवानी वह दो आरोपी उत्तर प्रदेश के हत्या करने की फिराक में थे।

पुलिस अधीक्षक भिवानी वरुण सिंगला आईपीएस ने जिला भिवानी में आने के बाद जिला पुलिस व सीआईए यूनिट को जिले में अपराधिक प्रवृत्ति के अपराधी व अपराधिक गैंग के सदस्यों को गिरफ्तार कर उनके विरुद्ध प्रभावी पुलिस कार्रवाई अमल में लाए जाने के लिए निर्देश दिए थे। वहीं जिला पुलिस भिवानी को सतर्कता व स्वतंत्रता दिवस के उपलक्ष में हाई अलर्ट पर रखा गया था। जिला पुलिस की कड़ी मेहनत, विश्वसनीय सूत्रों से प्राप्त सूचना व अधिकारियों की कड़ी मेहनत व नाकाबंदी के चलते सीआईए स्टाफ प्रथम भिवानी ने लॉरेंस बिश्नोई गैंग के 5 गुर्गों को भिवानी से भारी मात्रा में अवैध हथियार के साथ गिरफ्तार किया है।

आज पुलिस अधीक्षक भिवानी ने अपने कार्यालय में पत्रकारों से बातचीत करने के दौरान बताया कि जिले में अपराधिक गैंग से जुड़े अपराधियों के विरुद्ध प्रभावी पुलिस कार्रवाई करते हुए दिनांक 13.08.2023 को सीआईए स्टाफ प्रथम भिवानी के इंचार्ज निरीक्षक योगेश कुमार के नेतृत्व वाली टीम के इंचार्ज सहायक उप निरीक्षक आनंद कुमार ने बापोड़ा से सुई- बलियाली रोड से विश्वसनीय सूत्रों से प्राप्त सूचना के आधार पर रेड करके एक ठेके के पास से लॉरेंस बिश्नोई गैंग के पांच गुर्गों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है।

सीआईए स्टाफ प्रथम भिवानी के द्वारा गिरफ्तार किए गए आरोपियों की पहचान व बरामदगी निम्न लिखित है :-

1. आरोपी विकास पुत्र युद्धवीर निवासी बहलमबा हाल निवासी शिव कॉलोनी तोशाम। आरोपी से एक देसी पिस्तौल वह पांच जिंदा कारतूस बरामद किए गए हैं।

2. आरोपी दीपक उर्फ भोन्दी पुत्र रामभज निवासी विद्यानगर कॉलोनी हिसार रोड तोशाम। आरोपी से एक देशी पिस्तौल वह पांच जिंदा कारतूस बरामद किए गए।

3. आरोपी महेंद्र प्रताप पुत्र मेंहर पाल निवासी दूल्हेरा थाना शाहपुर, जिला मुजफ्फरनगर, उत्तर प्रदेश के रूप में हुई है।

4. आरोपी नवीन पुत्र जय भगवान निवासी खरकड़ी सोहन हाल निवासी तोशाम – भिवानी रोड तोशाम के रूप में हुई है। जांच इकाई के द्वारा आरोपी से 10 जिंदा कारतूस व दो मैगजीन बरामद किए गए हैं।

5. आरोपी मोहित पुत्र सतीश कुमार निवासी नुनाखेड़ा थाना तितावी, जिला मुजफ्फरनगर उत्तर प्रदेश के रूप में हुई है। जांच इकाई के द्वारा आरोपी से 45 जिंदा कारतूस व एक मैगजीन बरामद की गई है।

पुलिस टीम के द्वारा गहनता से पूछताछ करने पर गिरफ्तार किए गए आरोपी दीपक व विकास ने बताया कि उनकी दोस्ती सचिन पुत्र सुरेंद्र निवासी बोहल थाना बवानी खेड़ा से है। जो पंजाब में सिद्दू मूसेवाला की हत्या में शामिल था और फिलहाल जेल में बंद है।

✍️ लॉरेंस बिश्नोई गैंग के शूटर सचिन पर डकैती, धोखाधड़ी, चोरी, मारपीट, हत्या, हत्या का प्रयास, पुलिस टीम पर हमला, जान से मारने की धमकी आदि संगीन धाराओं के तहत कुल 12 अभियोग हरियाणा, राजस्थान, दिल्ली और पंजाब में दर्ज हैं।

✍️ आरोपी विकास निवासी तोशाम पर मारपीट, हत्या व आबकारी अधिनियम के तहत थाना तोशाम में तीन अभियोग दर्ज है।

✍️ आरोपी दीपक निवासी तोशाम पर हत्या, हत्या का प्रयास व शस्त्र अधिनियम के तहत एक अभियोग थाना बहल में दर्ज है।

सचिन की दोस्ती रवि बॉक्सर निवासी दुर्गा कॉलोनी भिवानी से थी। जिसकी वर्ष 2022 में हत्या कर दी थी। जो अपने साथी रवि की हत्या का बदला लेने के लिए सचिन ने दीपक, विकास, नवीन महेंद्र व मोहित को अपने विरोधी की हत्या करने का जिम्मा सौंपा था। सचिन जो लॉरेंस बिश्नोई गैंग का एक्टिव मेंबर व शुटर है। उसी ने आरोपियों को अलग-अलग स्थानों से तीन पिस्तौल, मैगजीन व 70 जिंदा कारतूस उपलब्ध कराए थे।

वही दिनांक 15.08. 2023 को स्वतंत्रता दिवस पर अपने विरोधी की हत्या करने की योजना थी। लेकिन जिला पुलिस भिवानी के द्वारा पिछले 01 सप्ताह से स्वतंत्रता दिवस को लेकर हाई अलर्ट पर रखा गया था। जो पुलिस कर्मियों के द्वारा अपने विश्वसनीय सूत्रों से प्राप्त सूचना, जिला पुलिस द्वारा सार्वजनिक स्थानों पर गहनता से चेकिंग, कडी नाकाबंदी व सफल कार्यशैली के चलते जिला भिवानी में एक हत्या की वारदात को नाकाम करने में सफलता हासिल की है। जांच इकाई के द्वारा सभी आरोपियों का आज पेश माननीय न्यायालय में कर पुलिस रिमांड पर लिया जाएगा।

पुलिस अधीक्षक भिवानी ने मीडिया के द्वारा आमजन को जानकारी देते हुए बताया कि जिला भिवानी में किसी भी प्रकार के संगठित अपराध या किसी भी गैंग के सदस्यों को सक्रिय नहीं होने दिया जाएगा। जिले में आम जनता व व्यापारी वर्ग को किसी भी आपराधिक प्रवृत्ति के व्यक्तियों से डरने की जरूरत नहीं है। जिले में शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए जिला पुलिस को सहयोग करें वह किसी भी संदिग्ध व वांछित अपराधियों की सूचना तुरंत जिला पुलिस को व डायल 112 पर दे।

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करेSubscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal