भिवानी: गमगीन माहौल में दी सूबेदार राजेश कुमार को दी अंतिम विदाई

1006
SHARE

तोशाम/भिवानी।

तोशाम उपमंडल के गांव लक्ष्मणपुरा निवासी सूबेदार राजेश कुमार का बीमारी के चलते निधन हो गया। वीरवार को गांव लक्ष्मणपुरा में राजेश कुमार को पूरे सैनिक सम्मान के साथ अंतिम विदाई दी गई। सूबेदार राजेश कुमार 518 एएससी बटालियन कोटा में कार्यरत थे। प्रशासन की तरफ से नायब तहसीलदार अशोक कुमार ने सूबेदार राजेश कुमार के पार्थिव शरीर पर पुष्पचक्र अर्पित किए। सेना के वाहन से उनके पार्थिव शरीर को कोटा से वीरवार सुबह उनके पैतृक गांव लक्ष्मणपुरा में लाया गया। सेना के वाहन के गांव में पहुंचते ही गांव से भारी संख्या में ग्रामीण अंतिम दर्शन व उनको नमन करने के लिए उमड़ पड़े। गमगीन माहौल में सैनिक सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार किया गया। सूबेदार राजेश कुमार के पुत्र नीरज ने अपने पिता को मुखाग्नि दी।

इससे पहले सेना के जवानों ने अपने दिवंगत साथी को अंतिम सलामी दी। राजेश कुमार कुछ समय से बीमार और कुछ समय से उनका उपचार चल रहा था। 14 मार्च को उन्होंने अंमित सांस ली। सूबेदार राजेश कुमार के परिवार में माता किताबो देवी, पत्नी सुनीता, पुत्र नीरज, पुत्री मोनिका व दो शादीशुदा बहनें मीना व रविता हैं। सूबेदार राजेश कुमार के पिता भीम सिंह भी सेना में थे। अंतिम संस्कार से पहले सूबेदार कुवेर सिंह गुर्जर, नायब सूबेदार रणजीत कुमार, नायब तहसीलदार अशोक कुमार, सब इंस्पेक्टर सतपाल व रामबीर सिंह, कानूनगो राजेन्द्र जाखड़ आदि अधिकारियों एवं कर्मचारियों के अलावा एडवोकेट हरिसिंह सांगवान, कमल प्रधान, जोगेंद्र बागनवाला, पंचायत समिति चेयरमैन प्रतिनिधि सोनू पंघाल आदि ने सूबेदार राजेश के पार्थिव शरीर पर पुष्पचक्र अर्पित किए। हजारों की संख्या में ग्रामीणों ने सूबेदार को अंतिम विदाई दी। सूबेदार के पार्थिव शरीर के साथ आए सैनिक अधिकारियों ने बताया कि सूबेदार राजेश कुमार में काम के प्रति समर्पण व देशभक्ति की भावना कूट-कूट कर भरी हुई थी। वे हमेशा अपने सार्थियों का हौसला बढ़ाते थे। उनकी कार्य शैली अन्य जवानों उनके लिए हमेशा प्रेरणादायी रहेगी।

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करेSubscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal