हरियाणा में सरकार बचाने को BJP का खेल

350
SHARE
भिवानी ।

हरियाणा में अल्पमत में आई सरकार को बचाने के लिए BJP ने नया खेल तैयार कर लिया है। भाजपा के करीबी सूत्रों के मुताबिक सरकार को गिरने से रोकने के लिए जननायक जनता पार्टी (JJP) के 3 बागी विधायक इस्तीफा दे सकते हैं। इनमें देवेंद्र बबली, रामनिवास सुरजाखेड़ा और जोगीराम सिहाग शामिल हो सकते हैं।

सूत्रों के मुताबिक यह सारी रणनीति कल गुरूवार को पानीपत में पूर्व CM मनोहर लाल खट्‌टर के साथ ही मीटिंग के बाद तैयार की गई है। जिसमें यह चर्चा हुई कि अगर फ्लोर टेस्ट या अविश्वास प्रस्ताव आता है तो फिर विपक्ष के गणित को फेल करने के लिए यह कदम उठाया जा सकता है।

चूंकि हरियाणा विधानसभा में भाजपा के ही स्पीकर ज्ञानचंद गुप्ता हैं तो तीनों विधायकों का इस्तीफा स्वीकार करने में कोई दिक्कत नहीं होगी। इसके बाद हरियाणा विधानसभा में 88 में से 85 विधायक बचेंगे और भाजपा का समूचे विपक्ष से एक विधायक ज्यादा हो जाएगा।

इसके बदले में तीनों विधायकों को 6 महीने बाद होने वाले विधानसभा चुनाव में भाजपा से टिकट मिल सकती है। हालांकि औपचारिक तौर पर बागी जजपा विधायक या भाजपा की तरफ से इसको लेकर कुछ नहीं कहा गया है।

वहीं कांग्रेस ने सरकार के अल्पमत में होने का हवाला देते हुए फ्लोर टेस्ट की मांग को लेकर गवर्नर बंडारू दत्तात्रेय से मिलने का वक्त मांगा है। हालांकि अभी तक गवर्नर ऑफिस से कांग्रेस विधायक दल को यह समय नहीं मिला है। हालांकि कांग्रेस विधायक दल के उपनेता विधायक आफताब अहमद और MLA बीबी बतरा चंडीगढ़ पहुंच चुके हैं।

हरियाणा विधानसभा में कुल 90 विधायक हैं। अभी 2 सीटें खाली हैं। मौजूदा वक्त में 88 विधायक हैं। भाजपा के पास 40 अपने, 2 निर्दलीय और 1 हलोपा MLA को मिलाकर 43 विधायक हैं। वहीं विपक्ष के पास 30 कांग्रेस, 10 जजपा, 1 इनेलो और 4 निर्दलीय विधायक यानी कुल 45 विधायक हैं।

जजपा के 6 विधायक अभी बागी हो चुके हैं। अगर उनमें से 3 विधायक इस्तीफा दे दें तो भाजपा के पास तो 43 विधायक ही रहेंगे लेकिन विपक्ष के पास 42 विधायक ही रह जाएंगे। ऐसे में भाजपा के पास बहुमत हो जाएगा।

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करे ubscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal