बस हादसे में फ्री इलाज का था वादा,हॉस्पिटल ने नहीं माना मंत्री का प्रॉमिस

26
SHARE

चंडीगढ़।

महेंद्रगढ़ स्कूल हादसे में घायल 2 स्टूडेंट्स के फ्री इलाज के सेहत मंत्री डॉ कमल गुप्ता के दावे को गुरुग्राम के एक अस्पताल से मानने से इनकार कर दिया है। मंत्री के आश्वासन के 24 घंटे बाद ही अस्पताल प्रबंधन ने 5.50 लाख रुपए का बिल परिजनों को थमा दिया है।

इलाज के लिए 50 हजार रुपए एडवांस भी जमा करा लिए। दरअसल बस दुर्घटना में छात्रा सपना भी गंभीर रूप से घायल हो गई थी, जो गुरुग्राम के एक प्राइवेट अस्पताल में अपना इलाज करवा रही है। छात्रा के पिता सतीश खटाना ने बताया कि सूबे के हेल्थ मिनिस्टर डॉ. कमल गुप्ता ने फ्री इलाज के साथ आने जाने का पूरा खर्च सरकार के द्वारा दिए जाने का वादा किया था, लेकिन अस्पताल की ओर से बेटी की स्पाइन सर्जरी के लिए साढ़े पांच लाख रुपए मांग लिए गए हैं।

इस बस हादस में 15 वर्षीय छात्रा सपना की कमर की हड्डी में फ्रेक्चर आया है। इसके साथ ही उसके सिर पर भी गंभीर चोट लगी है। इस निजी अस्पताल में 11 वर्षीय छात्र प्रियांशु भी भर्ती है, जिसके सीने में मल्टीपल फ्रेक्चर के साथ ही सिर में भी गंभीर चोट आई हैं। परिजनों ने बताया कि फ्री इलाज के बाद भी उन्होंने ब्लड भी दिया है।

दवाइयां भी खरीदनी पड़ रही हैं। सपना के पिता ने बताया कि उन्होंने अस्पताल प्रबंधन से जब इस विषय को लेकर बात की तो उन्होंने मंत्री के फ्री इलाज की बात को सिरे से खारिज कर दिया।

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करे ubscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal