गुणवत्ता पूर्ण खाद्य सामग्री की बिक्री को लेकर उपायुक्त के निर्देश पर सीएम फ्लाईंग ने मारे छापे

384
SHARE
पनीर, नमकीन व तेल के लिए सेंपल, दुकानदारों को दी गुणवत्ता पूर्वक सामग्री बेचने के निर्देश
भिवानी, 07 जून। उपायुक्त जयबीर सिंह आर्य के निर्देश पर सीएम फ्लाईंग ने सोमवार को शहर में विभिन्न खाद्य पदार्थों के प्रतिष्ठानों पर छापे मारे। टीम में शामिल खाद्य सुरक्षा अधिकारियों ने खाद्य पदार्थों सेंपल लिए। अधिकारियों ने दुकानदारों को गुणवत्ता पूर्ण खाद्य सामग्री की बिक्री करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि खाद्य सुरक्षा नियमों की अवहेलना कर मिलावटी सामान की बिक्री करने वालों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। छापेमारी का यह अभियान निरंतर जारी रहेगा।
खाद्य सुरक्षा अधिकारी डॉ. अरविंद्र जीत सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि उपायुक्त श्री आर्य द्वारा सख्त निर्देश दिए गए हैं कि जिला में मिलावटी खाद्य सामग्री की बिक्री किसी भी सूरत में नहीं होनी चाहिए ताकि नागरिकों की सेहत के साथ खिलवाड़ न हो। उपायुक्त के निर्देशानुसार ही सोमवार को छापेमारी अभियान चलाया गया है। उन्होंने बताया कि टीम द्वारा रोहतक रोड़ स्थित सब्जी मंडी के पास माता मंदिर के सामने एक पनीर के थोक विक्रेता की दुकान पर छापा मारा गया। छापे के दौरान पाया कि पनीर मेें दुर्गंध आ रही थी और कीड़े चल रहे थे। टीम के सदस्यों ने मौके पर ही करीब सात कि. ग्रा. पनीर नष्ट करवाया ताकि लोग उसके प्रयोग से बीमार न हो। उन्होंने बताया कि दुकान संचालक को पुलिस द्वारा फोन करने पर भी वह नहीं आया, जिससे कि उसके द्वारा कागजात पर हस्ताक्षर नहीं किए गए। उन्होंने बताया कि इस पनीर की दुकान से पहले भी सेंपल लिए जा चुके हैं।
इसी प्रकार से टीम के सदस्यों ने रोहतक गेट के पास ही नमकीन की दुकान पर छापा मारा। छापे में बीकानेरी के नाम से तैयार भुजिया, नागपाल पालक मिक्सचर के दो सेंपल लिए गए। टीम के सदस्योंं ने गांव खरक में एक ऑयल मिल पर भी छापा मारा और यहां पर सरसों के तेल के सेंपल लिए। छापे के दौरान टीम के सदस्यों ने दुकानदारों को चेतावनी दी कि वे मिलावटी सामान की खाद्य सामग्री की बिक्री न करें ताकि नागरिकों की सेहत से किसी प्रकार का खिलवाड़ न हो।
टीम में शामिल जिला सीआईडी इंचाई एवं निरीक्षक आजाद सिंह ढांडा ने बताया कि उपायुक्त श्री आर्य के निर्देशानुसार चलाया जा रहा यह छापामार अभियान निरंतर जारी रहेगा। किसी भी व्यक्ति को मिलावटी सामान बेचने की इजाजत नहीं है। इस दौरान उप निरीक्षक राजबीर सिंह, सुनील कुमार व धर्मेंद्र के अलावा राजकिशोर शामिल रहे।