गबन, धांधली, भ्रष्टाचार व रिश्वतखोरी पर डीसी द्वारा गठित विजीलेंस कमेटी की नकेल-उपायुक्त आरएस

85
SHARE

उपायुक्त आरएस ढिल्लो ने जिला व उपमंडल स्तर पर गठित की विजीलेंस कमेटी
विजीलेंस कमेटी के हवाले की जा रही हैं गबन, धांधली, भ्रष्टाचार व रिश्वतखोरी की शिकायतें
भिवानी।  

जिला में कोई भी व्यक्ति इस मुगालते में न रहे कि उनके घोटाले, धांधली, रिश्चतखोरी व भ्रष्टाचार छिपे रहेंगे और उन पर किसी प्रकार की कार्रवाई नहीं होगी। नागरिकों को पारदर्शी ढंग से सुशासन व सरकारी योजनाओं का लाभ मुहैया करवाने के चलते उपायुक्त आरएस ढिल्लो ने ठोस कदम उठाया है। उपायुक्त ने गबन, भ्रष्टाचार, धांधली और रिश्चतखोरी आदि मामलों पर त्वरित कार्रवाई के लिए जिला स्तर और उप मंडल स्तर पर कमेटियों का गठन किया है, जो ऐसे मामलों की शिकायत मिलने पर तुरंत प्रभाव से कार्रवाई करेगी और अपनी रिपोर्ट उपायुक्त को प्रस्तुत करेगी। जिला में इन कमेटियों ने अपना काम शुरु कर दिया है।
उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री  मनोहर लाल के नेतृत्व में प्रदेश सरकार का लोगों को शासन नहीं बल्कि सुशासन के साथ योजनाओं का लाभ देने प्राथमिकता है। इसके लिए ऑल लाईन ढंग से सेवाएं प्रदान करना भी एक अहम कदम है, जिससे न केवल लोगों को सरकारी कार्यालयों के चक्कर काटने से निजात मिली है बल्कि लोगों के समय की भी बचत हुई है। इसी प्रकार से सरकारी कार्य में भी पारदर्शिता आई है। इसी कड़ी में उपायुक्त आरएस ढिल्लो ने सरकार के निर्देशानुसार विकास कार्यांे व अन्य किसी प्रकार की धांधली, गबन, घोटाले, रिश्वतखोरी व भ्रष्टाचार पर लगाम लगाने के लिए भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत जिला व उप मंडल स्तर पर विजीलेंस कमेटियों का गठन किया है। प्रशासन के पास पहुंचने वाली शिकायतों के आधार पर इन कमेटियों ने अपने-अपने स्तर पर कार्य शुरु कर दिया गया है।
जिला विजीलेंस कमेटी में इन अधिकारियों को किया गया शामिल 
अतिरिक्त उपायुक्त के नेतृत्व में जिला विजीलेंस कमेटी का गठन किया है। इसके अलावा संबंधित विभाग या अन्य विभाग से कार्यकारी अभियंता, उप पुलिस अधीक्षक विजीलेंस, संबंधित विभाग से अधिकारी और उपायुक्त कार्यालय से वरिष्ठ लेखाकार को शामिल किया गया है।
उप मंडल स्तर की विजीलेंस कमेटी में ये अधिकारी हैं शामिल 
जिला स्तर के साथ-साथ उप मंडल स्तर पर विजीलेंस कमेटी का गठन किया गया है। इसमें भिवानी, तोशाम, लोहारू व सिवानी के उपमंडल के संबंधित उपमंडल अधिकारी ना. अध्यक्ष नियुक्त किए गए हैं। इसके अलावा जांच संबंधित विभाग या अन्य किसी विभाग से उपमंडल अभियंता, संबंधित विभाग का अधिकारी व लेखाकार शामिल किया गया है।
प्रशासन के पास आने वाली शिकायतों पर की जा रही कार्रवाई: डीसी
इस बारे में उपायुक्त आरएस ढिल्लो ने कहा कि जिला भिवानी में जिला व उप मंडल स्तर प विजीलेंस कमेटी गठित की गई हैं ताकि किसी भी प्रकार के भ्रष्टाचार, धांधली, रिश्वतखोरी पर लगाम लगाई जा सके।  जिला में सभी कमेटियां सक्रिय हो गई हैं और जो भी ऐसी शिकायतें प्रशासन के पास आ रही हैं, उनको संबंधित कमेटियों के पास जांच के लिए भेजा जा रहा है। जांच रिपोर्ट आने पर नियमानुसार सख्त कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। 

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करेSubscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal