शहीदों के बलिदान की बदौलत आज पूरा देश तिरंगे के रंग में रंगा हुआ है: रणजीत सिंह

117
SHARE

भिवानी।

आजादी के अमृत महोत्सव के समापन और मेरी माटी-मेरा देश अभियान के तहत स्थानीय भीम खेल परिसर में जिला स्तरीय स्वतंत्रता दिवस समारोह बड़े ही हर्षोल्लास व धूमधाम के साथ मनाया गया। प्रदेश के बिजली एवं जेल मंत्री रणजीत सिंह ने  मुख्यतिथि के रूप में शिरकत की। उन्होंने राष्ट्रीय गान की धुन के साथ राष्टï्रीय ध्वज फहराया। उन्होंने मार्चपास्ट की टुकडिय़ों का निरीक्षण किया और परेड की सलामी ली। उन्होंने कहा कि अमर शहीदों के अमूल्य बलिदान की बदौलत ही आज पूरा देश तिरंगे के रंग में रंगा हुआ है। इस दौरान उपायुक्त नरेश नरवाल, पुलिस अधीक्षक वरूण सिंगला, अतिरिक्त उपायुक्त अनुपमा अंजलि, एसडीएम दीपक बाबूलाल करवा और नगराधीश हरबीर सिंह भी मौजूद रहे।
जिला स्तरीय समारोह में संबोधन के माध्यम से संदेश देते हुए बिजली मंत्री रणजीत सिंह ने कहा कि आज हर भारतवासी के लिए खुशी का दिन है। आज हर गली, हर मोहल्ले में तिरंगा है। हर घर-हर दफ्तर में तिरंगा है। हर वाहन, हर हाथ में तिरंगा है। पूरा देश तिरंगे के रंगों में रंगा है।पूरा देश देशभक्ति के रंग में रंगा है। इस दिन के लिए मां भारती के न जाने कितने ही सपूतों ने अपना सबकुछ बलिदान कर दिया। इसी दिन के लिए असंख्य देशभक्तों ने कष्ट झेले और यातनाएं सही। उन्होंने अपवने संबोधन से आजादी की बलिवेदी पर अपने प्राणों की आहुति देने वाले सभी ज्ञात-अज्ञात शहीदों को नमन किया।  उन्होंने कहा कि पिछले दो साल से हम सब ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ मना रहे थे। इस महोत्सव के समापन पर के साथ ही माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने ‘मेरी माटी-मेरा देश’ अभियान शुरू किया है। नौ अगस्त को ‘भारत छोड़ो आंदोलन’ की वर्षगांठ पर शुरू किए गए, इस अभियान में देश के हर गांव व हर शहर की मिट्टी इक_ी की जा रही है। आजादी के आंदोलन की पहली चिंगारी 10 मई, 1857 को हरियाणा के अम्बाला से फूटी थी। उस चिंगारी ने आगे चलकर ऐसा जन-आन्दोलन खड़ा किया, जिसके बलबूते हम सन 1947 में अंग्रेजी हुकूमत को उखाड़ फेंकने में कामयाब रहे। इस आंदोलन के बलिदानियों की देशभक्ति से हमारी युवा पीढियां प्रेरणा हासिल करें, इसके लिए हम अम्बाला छावनी में शहीदी स्मारक बना रहे हैं। युद्ध के दौरान शहीद हुए सेना व अर्ध-सैनिक बलों के जवानों की अनुग्रह राशि बढ़ाकर 50 लाख रुपए की गई है। अब तक शहीदों के 367 आश्रितों को अनुकम्पा के आधार पर नौकरी प्रदान की गई है। ‘मेरी माटी-मेरा देश’ अभियान में ऐसे ही वीरों के नाम पूरे देश के गांवों के गौरव पट्ट पर अंकित किए जा रहे हैं।
वर्तमान सरकार ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी के ‘सबका साथ-सबका विकास’ और ‘हरियाणा एक-हरियाणवी एक’ के मूलमंत्र पर चलते पूरे हरियाणा और हरेक हरियाणवी की तरक्की और उत्थान के लिए काम किया है। भ्रष्टाचार के प्रति जीरो टॉलरेंस की नीति अपनाते हुए पारदर्शी शासन दिया है। हर आदमी का जीवन सरल, सुगम और सुरक्षित हुआ है। पंडित दीनदयाल उपाध्याय जी के अंत्योदय के दर्शन के अनुरूप प्रदेश के सभी परिवारों का पहचान पत्र बनाया, जिससे पात्र परिवारों की पहचान कर योजनाओं का लाभ देना सुनिश्चित किया गया। प्रशासन में मानव हस्तक्षेप को न्यूनतम करने के लिए आईटी का बड़े पैमाने पर प्रयोग किया है। आज हर सरकारी योजना के पारदर्शी तरीके से लागू किए जाने से घर बैठे गरीब की बेटी की शादी का शगुन, बुजुर्ग, विधवा व दिव्यांगों की पेंशन, बी.पी.एल. कार्ड, चिरायु कार्ड का लाभ कम्प्यूटर की एक क्लिक से सीधे पात्र के खाते में जाता है। प्रदेश में बिजली का उत्पादन पहले से कहीं अधिक बढ़ा है्र लोगों को पर्याप्ता मात्रा में बिजली प्रदान की जा रही है। बिजली व्यवस्था में अभूतपूर्व सुधार किया है। इसी प्रकार से जेलों की व्यवस्था में सुधार किया है, भिवानी में नई जेल बनकर तैयार हो गई है।
उन्होनें कहा कि इस साल को हम ‘अन्त्योदय आरोग्य वर्ष’ के रूप में मना रहे हैं। गरीबों के मुफ्त इलाज के लिए तकरीबन 85 लाख आयुष्मान भारत-चिरायु कार्ड घर बैठे ही बनाए गए हैं। निरोगी हरियाणा योजना में लगभग 25 लाख गरीबों के स्वास्थ्य की जांच की है। ‘हर घर नल से जल’ कार्यक्रम में 13 लाख घरों में स्वच्छ पेयजल पहुंचाया है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल जी के कुशल नेतृत्व में सरकार ने गरीबों का जीवन-स्तर ऊपर उठाने के लिए अंत्योदय मेले लगाकर 50 हजार से अधिक गरीबों को स्वरोजगार के लिए ऋणप्रदान किए हैं। गरीबों के सिर पर छत उपलब्ध करवाने के लिए ‘प्रधानमंत्री आवास योजना’ के तहत 36 हजार मकान बनाए गए हैं, जबकि 16 हजार मकान बनाए जा रहे हैं। गरीबों का अपने बच्चों को प्राइवेट स्कूलों में पढाने का सपना साकार करने के लिए ‘चिराग योजना’ चलाई गई है।
सरकार ने कृषि, उद्योग, व्यापार, रोजगार, शिक्षा, स्वास्थ्य आदि हर क्षेत्र में भी ई-गवर्नेंस के माध्यम से क्रांतिकारी बदलाव किए हैं। जिस प्रकार, परिवार पहचान पत्र के डेटा से विभिन्न योजनाओं का लाभ लोगों को घर बैठे ही मिल रहा है, उसी प्रकार, कृषि क्षेत्र में ’मेरी फसल-मेरा ब्यौरा’ पोर्टल बनाकर किसान को लाभ देने वाली अनेक योजनाओं को इससे जोड़ दिया है। हरियाणा देश का पहला राज्य है, जिसने बागवानी फसलों को मौसम की मार से बचाने के लिए ‘मुख्यमंत्री बागवानी बीमा योजना‘ शुरू की है। पशुपालन को प्रोत्साहित करने के लिए सरकार ने किसान क्रेडिट कार्ड की तर्ज पर ’पशुधन किसान के्रडिट कार्ड योजना’ शुरू की है। आज हरियाणा में निवेशकों को 247 सेवाएं ऑनलाइन प्रदान की जा रही हैं। आज हरियाणा देश-विदेश के निवेशकों की पहली पसंद बन गया है। पिछले पौने नौ वर्षों में प्रदेश में 1000 से अधिक बड़े व मध्यम तथा लगभग दो लाख सूक्ष्म और लघु उद्यम स्थापित किए हैं।
महिलाओं के लिए आजीविका के अवसर बढाने के लिए एक-तिहाई राशन डिपो महिलाओं को देने का प्रावधान किया बहन-बेटियों को उच्चतर शिक्षा की सुविधा प्रदान करने के लिए सरकार ने 20 किलोमीटर के दायरे में एक कॉलेज स्थापित किया है। प्रदेश में 76 नए कॉलेज खोले गए हैं। इनमें आधे से अधिक लड़कियों के हैं। निर्वाचित प्रतिनिधियों, सरकार और ग्राम निवासियों के बीच संबंध स्थापित करने के लिए ‘ग्राम दर्शन’पोर्टल शुरू किया है।
स्वतंत्रता सेनानियों, युद्ध वीरांगनाओ, उल्लेखनीय कार्य करने वाले अधिकारियों व कर्मचारियों व प्रतिभागी बच्चों को किया सम्मानित
बिजली मंत्री रणजीत सिंह ने समारोह के दौरान स्वतंत्रता सेनानियों, युद्ध वीरांगनाओं, निष्ठïावान अधिकारियों व कर्मचारियों, सांस्कृतिक कार्यक्रमों व परेड में अव्वल आने वाले बच्चों के अलावा प्रतिभागी बच्चों को जिला प्रशासन की तरफ से सम्मानित किया। सम्मानित होने वालों में बिजली निगम के अधीक्षण अभियंता रणबीर सिंह, बीडीपीओ सोमबीर कादयान, एएसआई रामनिवास, साईबर क्राईम से एएसआई विजय सिंह, एसआई कुलदीप, कांस्टेबल अंकित, रमेश कुमार, एमएनसी कॉलेज से करिश्मा, बागवानी विभाग से चंद्र प्रकाश, पीजीटी कॉर्मस कविता तंवर, खेल विभाग से एशियन गोल्ड मैडलिस्ट पूजा, फुटबाल में वृशिका व शैलजा, जिला न्यायालय से उल्लेखनीय कार्य करने पर धीरज शर्मा, जोगेन्द्र सिंह, वीएलडीए सुनील कुमार, स्वछ भारत मिशन से सतीश कुमार, जेबीटी प्रविन्द्र सिंह, पाजीटी हिंदी सुधा बुंदेला, सहायक अधीक्षक राजस्व सत्यपाल सिंह, टैक्रिकल ऑफिसर अनिल कुमार चहल व स्वरोजगार स्थापित करने में उल्लेखनीय कार्य करने वाला सुभाष चंद्र, कला अध्यापक योगेश बरनेला के अलावा लारेंस गैंग के गुर्गों को दबोचने वाले पुलिस निरीक्षक योगेश कुमार, एएसआई आनंद, प्र. सि. सुमेर सिंह व बिजेंद्र सिंह और सिपाही नरवीर सिंह और विकास शामिल थे।
इस प्रकार रहे सांस्कृतिक और परेड के परिणाम
सांस्कृतिक कार्यक्रमों में राजकीय कन्या वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालय ने पहला, केएम स्कूल ने दूसरा और राजकीय मॉडल संस्कृति स्कूल ने तीसरा स्थान हासिल किया। परेड में हरियाणा पुलिस पहले, एनसीसी ज्यूनियर डिवीजन लड़कियां की टुकड़ी दूसरे और एनसीसी सीनियर डिवीजन लडक़ों की टुकड़ी तीसरे स्थान पर रही। समारोह में पीटी शो में भाग लेने वाले स्कूलों व वैश्य मॉडल स्कूल के बैंड के बच्चों को सम्मानित किया गया।
सांस्कृतिक कार्यक्रम में स्कूली बच्चों ने देशभक्ति से ओतप्रोत दी शानदार प्रस्तुति
जिला स्तरीय स्वतंत्रता दिवस समारोह में विभिन्न स्कूली बच्चों ने देशभक्ति से ओतप्रोत शानदार सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति दी। सांस्कृतिक कार्यक्रमों में मेरी माटी-मेरा देश और आजादी के अमृत महोत्सव के समापन की झलक दिखाई दी। बच्चों ने अपनी प्रस्तुति से 13 से 15 अगस्त तक चलाए जा रहे हर घर तिरंगा अभियान के तहत हर अपने-अपने घरों पर तिरंगा फहराने का भी संदेश दिया। सांस्कृतिक कार्यक्रमों में वैश्य मॉडल स्कूल ने सौगंध है मुझे इस मिट्टïी की मैं देश नहीं झुकने दूंगा, हलवासिया विद्या विहार ने मेरी  माटी-मेरा देश, राजकीय मॉडल संस्कृति वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालय ने देशभक्ति व भारतीय संस्कृति पर आधारित रागनी, जी-लिट्रा वैली स्कूल ने मैं हरियाणे की छोरी, केएम स्कूल ने भारतीय संस्कृति की छंटा और राजकीय कन्या वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालय की छात्राओं ने हां सुण ले मेरा ठिकाणा रै इस भारत म्है हरियाणा की जोरदार प्रस्तुति दी।
डंबल, लेजियम और पीटी शो से बच्चों ने किया प्रदर्शन
जिला स्तरीय स्वतंत्रता दिवस समारोह में बच्चों ने शानदार मास पीटी शो का प्रदर्शन किया, जिसमें पीटी, डंबल और लेजियम शामिल था। लेजियम में राजकीय कन्या वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालय और केएम स्कूल के बच्चे शामिल थे। डंबल में उतमी बाई कन्या वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालय, हलवासिया विद्या विहार और पंडित सीताराम शास्त्री स्कूल तथा पीटी शो में राजकीय मॉडल संस्कृति स्कूल, टीआईटी स्कूल, पंडित सीताराम शास्त्री स्कूल तथा डॉ. पल्ली राधा कृष्णन स्कूल के विद्यार्थी शामिल रहे। मास पीटी शो डीपीई विरेंद्र सिंह द्वारा करवाया। स्वतंत्रता दिवस का राजकीय कन्या वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालय से प्रवक्ता डॉ. मनोज शर्मा ने समारोह में मंच का संचालन किया।
स्वतंत्रता दिवस समारोह में परेड की टुकडिय़ों ने किया तिरंगे को सलाम
जिला स्तरीय स्वतंत्रता दिवस समारोह में मुख्य अतिथि को सलामी देते हुए परेड का नेतृत्व लोहारू के उप पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार एचपीएस की टुकडय़ों ने शानदार मार्च पास्ट किया। मार्च पास्ट की टुकडिय़ां राष्टï्रीय ध्वज को सलामी देते हुए मंच के सामने से गुजरी। मुख्यअतिथि बिजली मंत्री रणजीत सिंह चौटाला ने मार्च पास्ट की टुकडिय़ों की सलामी ली। परेड की टुकडिय़ों में एएसआई अमरजीत ने पुरूष पुलिस, एएसआई बबीता ने महिला पुलिस, प्लाटून कमांडर चंद्रभान ने होमगार्ड, सी.अंडर ऑफिसर राहुल ने एनसीसी सी.डिवीजन लडक़े, सीनियर अंडर ऑफिसर कशिश जैन ने एनसीसी लड़कियां, सागर सिंह ने भारत स्काऊट एंड गाईड चंद्र शेखर आजाद ओपन ग्रुप, शशि प्रभा ने नांगल से राजकीय हाई स्कूल के बच्चों की हिंदुस्तान स्काऊट एंड गाईड का नेतृत्व किया। परेड की टुकडिय़ों ने मास्टर अश्विनी कुमार की अगुवाई में वैश्य मॉडल स्कूल के बैंड की मीठी-मीठी धुन पर मार्च पास्ट किया, जिसको छात्रा मीनाक्षी ने कमांड किया। मंच का संचालन प्रवक्ता डॉ. मनोज शर्मा ने किया।
बिजली मंत्री ने नेहरू पार्क में शहीद स्मारक पर किए पुष्प अर्पित
समारोह स्थल पर पहुंचने से पहले बिजली मंत्री ने स्थानीय नेहरू पार्क पहुंचकर शहीद स्मारक पर पुष्प अर्पित कर शहीदों को नमन किया। स्वतंत्रता दिवस समारोह हर घर तिरंगा और मेरी माटी-मेरा देश के रंग में रंगा नजर आया। पूरे स्टेडियम को तिरंगे से सजाया गया था। मंच के ठीक सामने मेरी माटी-मेरा देश अभियान पर अधारित शानदार रंगोली बनाई है।
कार्यक्रम में ये रहे मुख्य रूप से मौजूद
कार्यक्रम के दौरान जिला एवं सत्र न्यायधीश दीपक अग्रवाल, एडीजे केके सिंह, सीजेएम कपिल राठी, पूर्व विधायक शशि रंजन परमार, पूर्व विधायक डॉ. शिव शंकर भारद्वाज, तहसीलदार आदित्य रंगा, एसई सिंचाई प्रदीप यादव, जीएम रोड़वेज डॉ. नेत्रपाल खत्री, जिला बागवानी अधिकारी देवी लाल, जिला शिक्षा अधिकारी नरेश महता, जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी संतोष नागर, एसआईएस मनोज कुमार के अलावा विभिन्न विभागों से अधिकारी, कर्मचारी, स्कूली बच्चे, विभिन्न स्कूलों के प्राचार्य व गणमान्य नागरिक मौजूद रहे।