निरीक्षण के दौरान सिविल सर्जन ने पिलाई पोलियो की दवा

25
SHARE

 

दूसरे दिन 28 फरवरी तक 80 लक्ष्य पूरा

भिवानी।

सिविल सर्जन डॉ रघुबीर शांडिल्य ने मंगलवार को पोलियो के बूथों का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने बच्चों को पोलियो की दवा पिलाई। उल्लेखनीय कि 27 फरवरी से जिला में उपायुक्त आरएस ढिल्लो के मार्गदर्शन में पोलियो उन्मूलन अभियान के तहत बच्चों को पोलियो की दवा पिलाने का कार्य किया जा रहा है। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा टीमों का गठन किया गया है, जो अपने-अपने क्षेत्रों में बच्चों को पोलियो की दवा पिलाने का काम कर रही हैं। उपायुक्त द्वारा स्वास्थ्य विभाग को निर्देश दिए कि गए हैं कि एक से पांच साल के सभी बच्चों को पोलियो की दवा पिलाई जाए। शहरी व ग्रामीण क्षेत्र में स्लम एरिया, ईंट भळों, फैक्ट्रियों आदि दूर-दराज क्षेत्रों में बच्चों को पोलियो की दवा पिलाई जाए। उपायुक्त के निर्देशानुसार स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों द्वारा पोलियो दवा पिलाने के कार्य का निरीक्षण भी किया जा रहा है। इस बारे में डॉ शांडिल्य ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा चलाए जा रहे पोलियो अभियान में जिला में कुल एक लाख 29 हजार 452 बच्चों को पोलियो की खुराक पिलाई जाएगी, जिसमें ग्रामीण क्षेत्र में 99 हजार 628 तथा शहरी क्षेत्र में 29 हजार 824 बच्चों को पोलियो की खुराक दी जाएगी। 28 फरवरी तक विभाग ने 80 प्रतिशत पूरा कर लिया है।

सिविल सर्जन ने बताया कि जिला भिवानी में चलाए जाने वाले अभियान के तहत जीरो से पांच साल तक के कुल एक लाख 29 हजार 452 बच्चों को पोलियो की खुराक पिलाई जाएगी, जिसमें ग्रामीण क्षेत्र में 99 हजार 628 तथा शहरी क्षेत्र में 29 हजार 824 बच्चों को पोलियो की खुराक दी जाएगी। उन्होंने बताया कि इस अभियान के तहत दवा पिलाने के लिए कुल 677 टीमों का गठन किया गया है, जिसमें 2655 खुराक पिलाने वाले हैं। इसी प्रकार 117 सुपरवाईजर हैं। पोलियो के लिए 618 बूथ बनाए गए हैं तथा रेलवे स्टेशन, चौराहे, बस स्टैंड आदि पर 23 ट्रांजिट प्वाइंट बनाए गए हैं, जहां पर दवा पिलाने काम किया जा रहा है। दस मोबाईल टीम भी बनाई गई हैं, जो दूर-दराज व स्लम एरिया में रहने वाले बच्चों को दवा पिलाने का काम कर रही हैं। सिविल सर्जन ने मंगलवार को पोलियो की दवा पिलाने के कार्य का निरीक्षण किया। उन्होंने शहर के स्लम एरिया के साथ-साथ ग्रामीण अंचल में निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने अनेक जगहों पर बच्चों को दवा पिलाई। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों को निर्देश दिए कि कोई भी बच्चा पोलियो की दवा से छूटने न पाए।

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करेSubscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal