अतिक्रमण के 6 साल पुराने केस में भड़के बिजली मंत्री ,नगर परिषद के EO सस्पेंड

129
SHARE

 जींद ।

डीआरडीए हाल में जिला परिवदेना समिति की बैठक में शिकायतें सुनने के लिए पहुंचे बिजली मंत्री रणजीत सिंह ने नगर परिषद ईओ सुशील कुमार को सस्पेंड किया है। ईओ के खिलाफ अवैध अतिक्रमण को हटाने समेत कई तरह की शिकायतें मिल चुकी थी, जिसके बाद ईओ को मंत्री ने सस्पेंड के आदेश जारी किए।

डीआरडीए हाल में जिला परिवेदना समिति की बैठक चल रही है। बैठक में 16 शिकायतें रखी गई, जिन पर सुनवाई चल रही है। शहर में मुख्य रास्तों से लेकर बाजार में अतिक्रमण हटाने को लेकर नगर परिषद द्वारा किसी तरह की कार्रवाई नहीं की जा रही थी, जिस पर ईओ के खिलाफ शिकायत पर सुनवाई करते हुए बिजली मंत्री ने उन्हें सस्पेंड कर दिया। इसके अलावा भी नगर परिषद ईओ के खिलाफ कई शिकायतें मिली हैं।

जींद के गांधी नगर के विपिन जैन ने परिवेदना समिति की बैठक में शिकायत में कहा कि उसने अपने पड़ोसी के खिलाफ अतिक्रमण को लेकर 01 मई 2017 में सीएम विंडो पर शिकायत दी थी। इसके जवाब में 15 सितंबर 2017 को नगर परिषद जींद ने जवाब देते हुए लिखा कि जिसके खिलाफ शिकायत की गई है, उसके खिलाफ कोर्ट में मामला दायर किया गया है।

सूचना आयोग में नगर परिषद की तरफ से कोई भी कर्मचारी नहीं पहुंचा और ना ही एमसी जींद द्वारा कोई जवाब प्रस्तुत किया गया। राज्य सूचना आयोग ने इस मामले में जुर्माना भी किया गया था। इसके बाद उसने दोबारा से 12 मार्च 2018 को कार्यकारी अधिकारी नगर परिषद जींद को आरटीआई के तहत आवेदन किया। पहली अपील में कोई जवाब दाखिल नहीं किया गया।

नगर परिषद में माली की पोस्ट पर तैनात एक कर्मचारी को कंप्यूटर ऑपरेटर का काम दे रखा था और यह कर्मचारी कंप्यूटर ऑपरेटर लोगों के काम सही से नहीं कर रहा था। इस पर बिजली मंत्री ने कहा कि दोबारा से वह कंप्यूटर की सीट पर नजर नहीं आना चाहिए। बैठक में एडीसी डॉ. हरिश वशिष्ठ, एसपी सुमित कुमार, भाजपा के जिला अध्यक्ष राजू मोर, राज सैनी, अमरपाल राणा समेत कई अधिकारी मौजूद रहे।

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करेSubscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal