सोशल मीडिया पर होम गार्ड भर्ती का फेक विज्ञापन

65
SHARE

हरियाणा में सोशल मीडिया पर होम गार्ड भर्ती का एक फेक विज्ञापन वायरल हुआ। इसको लेकर गृह मंत्री अनिल विज खासे परेशान हैं। उन्होंने लोगों को कहा है कि यह भर्ती विज्ञापन फेक है। अभी भर्तियों पर पूरी तरह से रोक लगी हुई है। कुछ शरारती तत्व लोगों से पैसे ऐंठने के लिए ऐसा कर रहे हैं। इनसे सावधान रहने की जरूरत है।

हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने लोगों को सचेत करते हुए अपील की है कि राज्य के होम गार्ड विभाग द्वारा स्वयंसेवकों का पंजीकरण नहीं किया जा रहा है, इसलिए शरारती तत्वों से सावधान रहें और किसी भी व्यक्ति या असामाजिक तत्व के झांसे में न आएं।

निशुल्क होता है पंजीकरण
विज ने बताया कि स्वयंसेवकों का पंजीकरण निशुल्क होता है और जिलों में यह पंजीकरण नहीं किया जाता है। इसलिए शरारती तत्वों से सावधान रहें। क्योंकि असामाजिक तत्व पैसे ऐंठने की नीयत से आपको भर्ती, पंजीकरण का झांसा दे सकते हैं। विज ने लोगों से कहा कि यदि कोई असामाजिक तत्व आपको फंसाने की कोशिश करें तो कृपया होम गार्ड के राज्य मुख्यालय पर तुरंत सूचित करें।

वॉट्सऐप पर चल रहा विज्ञापन
वॉट्सऐप के माध्यम से और गूगल पर भर्ती के विज्ञापन इन शरारती तत्वों द्वारा प्रकाशित किए हैं। इसलिए आप सचेत रहें, भर्ती की सही जानकारी केवल होम गार्ड के चंडीगढ़ स्थित राज्य मुख्यालय अथवा होम गार्ड की अधिकृत वेबसाइट से मिल जाएगा।

भर्तियों पर लगी है रोक
गृह मंत्री अनिल विज व होमगार्ड कमांडेंट जनरल DGP देशराज सिंह द्वारा पहले भी विभिन्न माध्यमों से सभी को सूचित किया जा चुका है कि भर्ती पर रोक है। ऐसे में होम गार्ड के स्वयंसेवकों की भर्तियों का विज्ञापन निकलना संभव नहीं है, इसलिए सोशल मीडिया पर चल रहा विज्ञापन पूरी तरह से फेक है।

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करेSubscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal