किसान आंदोलन-13वां दिन, हरियाणा में इंटरनेट पर रोक हटी

28
SHARE

अंबाला।

किसान आंदोलन का आज रविवार (25 फरवरी) को 13वां दिन है। पंजाब के किसान शंभू और खनौरी बॉर्डर पर डटे हुए हैं। उन्होंने दिल्ली कूच का फैसला 29 फरवरी तक टाल दिया है। किसानों का कहना है कि जब तक उनकी मांगें पूरी नहीं होती, तब तक वे घर वापस नहीं जाएंगे।

आज किसान शंभू और खनौरी बॉर्डर पर वर्ल्ड ट्रेड ऑर्गेनाइजेशन (WTO) को लेकर एक सम्मेलन करेंगे। इसके द्वारा देशभर के किसानों को जागरूक करने की योजना है। इसमें एक्सपर्ट आकर WTO के नुकसान बताएंगे। उधर, हरियाणा के 7 जिलों में मोबाइल इंटरनेट पर लगी रोक हट गई है। अंबाला, कुरुक्षेत्र, कैथल, जींद, हिसार, फतेहाबाद और सिरसा में 11 फरवरी की सुबह 6 बजे से इंटरनेट बंद था।

इसके अलावा किसानों के दिल्ली कूच को देखते हुए 11 दिन से बंद दिल्ली के टीकरी बॉर्डर और सिंघु बॉर्डर को अस्थायी तौर पर खोल दिया गया है। टिकरी बॉर्डर पर दिल्ली पुलिस के लगाए कंटेनर और पत्थर हटाए गए। हालांकि, शुरुआती तौर पर एक साइड की सड़क खोली गई है। साथ ही झाड़ौदा बॉर्डर पर भी एक साइड आवाजाही शुरू हो गई है। इससे दिल्ली आने-जाने वाले लोगों को राहत मिली है।

पंजाब के फतेहगढ़ साहिब से कांग्रेस सांसद डॉ. अमर सिंह ने किसानों के MSP समेत अन्य मुद्दों को लेकर लोकसभा का विशेष सत्र बुलाने की मांग की है। उन्होंने इसे लेकर लोकसभा स्पीकर को चिट्‌ठी लिखी है।

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करे Subscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal