देशभर में कल 4 घंटे ट्रेन रोकेंगे किसान

31
SHARE

अंबाला।

किसान आंदोलन-2 का आज 9 मार्च को 26वां दिन है। हरियाणा-पंजाब के हजारों किसान शंभू और खनौरी बॉर्डर पर डटे हुए हैं। किसानों ने कल यानी 10 मार्च को दोपहर 12 से 4 बजे तक पूरे देश में ट्रेन रोकने का ऐलान किया हुआ है, जिसमें महिला किसान भी हिस्सा लेंगी।

उधर, संयुक्त किसान मोर्चा (SKM) ने 14 मार्च को दिल्ली के रामलीला मैदान में महापंचायत रखी है। इसे किसान-मजदूर महापंचायत नाम दिया है।वहीं, हरियाणा पुलिस ने किसानों के रेल रोको आंदोलन में हिस्सा न लेने की अपील की है। कहा कि अंबाला प्रशासन द्वारा पहले से ही धारा 144 लगाई गई है। अगर, कोई इसमें भाग लेता है तो उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

किसान नेता सरवण सिंह पंधेर ने रेल रोको आंदोलन में हिस्सा लेने की अपील की है। कहा कि रेलवे स्टेशन और फाटक पर ही रेल रोकनी है, क्योंकि अगर बीच ट्रैक पर बैठेंगे तो नुकसान हो सकता है। यह सांकेतिक आंदोलन रहेगा। किसान दोपहर 12 से शाम 4 बजे तक ट्रेन रोकें।

पंधेर ने मोदी सरकार कह रही है कि यह आंदोलन पंजाब का है,कल पता लग जाना चाहिए कि यह आंदोलन किस का है। माता-बहनों ने भी रेल रोको आंदोलन में हिस्सा लेने की बात कही है। पंधेर ने कहा कि अभी तक लखीमपुर खीरी मामले में इंसाफ नहीं मिला तो शुभकरण हत्या मामले में कैसे मिल सकता है। अगर शुभकरण को न्याय नहीं मिला तो बड़ा आंदोलन करेंगे। पंधेर ने खनौरी बॉर्डर पर तैनात ड्यूटी मजिस्ट्रेट, पुलिस मुलाजिमों को नामजद करते हुए गिरफ्तार करके जेल में डाले। सरकार ने किसानों के हाथ लहू से रंगे हैं।

पंधेर ने पंजाब भाजपा अध्यक्ष सुनील जाखड़,अश्विनी शर्मा, फतेचंद सिंह बाजवा, भाजपा नेता कैप्टन अमरिंदर सिंह को कहा कि अगर जमीर जागती है तो इस्तीफा देकर बाहर आ जाओ। अगर किसी तरह का फर्क नहीं पड़ता, आपके के लिए विधायक/सांसद की सीट मायने रखती हैं तो इसका लोग अपने आप फैसला कर लेंगे।

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करे ubscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal