पहलवान चंदगीराम अखाड़ा में लगाई आग:3 युवकों पर शक, लाखों का सामान जलकर राख; विवाद के कारण 20 जनवरी को सील किया था

234
SHARE

हरियाणा के हिसार जिले के सिसाय गांव स्थित पहलवान चंदगीराम अखाड़ा की बिल्डिंग में बीती रात अज्ञात लोगों ने आग लगा दी। आग में जलकर अखाड़े में रखा लाखों रुपए का सामान राख हो गया। गांववालों को सुबह इस घटना के बारे में पता चला, लेकिन तब तक सारा सामान जलकर राख हो चुका था और आग बुझ चुकी थी। अखाड़े में लाखों रुपए के कीमती मैट व खिलाड़ियों का सामान, साउंड सिस्टम भी जल गया।

इस अखाड़े को विवाद के कारण गत 20 जनवरी को प्रशासन द्वारा सील किया गया था। अखाड़े के कोच पहलवान सुभाष ने तीन लोगों पर इस घटना को अंजाम देने का शक जताया। सुभाष के अनुसार, रंजिशन उनके अखाड़े में आग लगाकर सामान को जलाया गया है। जब 20 जनवरी को प्रशासन ने अखाड़े को सील किया था तो उस समय भी उनको सामान नहीं निकालने दिया गया था और आज रात को यह आग वाली घटना हुई है।

अखाड़े के कोच सुभाष पहलवान ने बताया कि अखाड़े का निर्माण पहलवान चंदगीराम ने करवाया था। वह सीआईएसएफ से रिटायर हैं। पेंशन आने के बाद मैंने अपने पैसों व गांव के सहयोग से यहां खिलाड़ियो के लिए व्यवस्था की थी। एक साल पहले दो-तीन शरारती किस्म के लोग अखाड़े में आने लगे थे। उन लोगों को अखाड़े से बाहर कर दिया गया था। इसके बाद उनके द्वारा अखाड़े का अवैध रूप से बनाने की शिकायत की गई थी, जिसके बाद प्रशासन द्वारा अखाड़े का सील कर दिया गया था।

बता दें कि भारत को कुश्ती में पहचान दिलाने वाले मास्टर चंदगीराम ने गांव सिसाय में करीब 32 साल पहले अखाड़े की नींव रखी थी। इस अखाड़े से तैयार पहलवानों ने देश में राष्ट्रीय व अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अपना परचम लहराया है। वर्तमान में 20 जनवरी तक अखाड़े में लगभग 125 युवा कुश्ती का प्रशिक्षण ले रहे थे।

 

 

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करे

Subscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal