भिवानी: जनसंवाद कार्यक्रम, मुख्यमंत्री मनोहर लाल की बड़ी घोषणा

581
SHARE

भिवानी।

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने घोषणा की है कि सभी जिलों में पुलिस विभाग द्वारा नीलाम किए जाने वाले वाहनों की अब ऑनलाइन बोली की जाएगी। राज्य सरकार की ओर से सभी जिलों में पुलिस को आदेश जारी कर दिए जाएंगे। इसके अलावा, मुख्यमंत्री ने घोषणा करते हुए कहा कि गांव से शहरों की ओर पलायन रोकने के लिए शहरों जैसी सुविधाएं शिक्षा, स्वास्थ्य, परिवहन सुविधाएं इत्यादि गांवों में प्रदान की जाएंगी। आगामी समय में बड़े गांवों में कॉलोनियां विकसित की जाएंगी।
मुख्यमंत्री आज भिवानी जिले के गांव खरक कलां में जनसंवाद कार्यक्रम में ग्रामीणों को संबोधित कर रहे थे। जन संवाद कार्यक्रम के दौरान गांव के एक व्यक्ति ने पुलिस विभाग द्वारा नीलाम किए जाने वाले वाहनों की नीलामी ऑनलाइन करने के लिए मुख्यमंत्री को निवेदन किया। इस पर मुख्यमंत्री ने उपरोक्त घोषणा की।
खरक कलां गांव में कई कार्य किए मंजूर, इस वित्त वर्ष के लिए गांव को 2.30 करोड़ रुपये की दी जाएगी राशि
मुख्यमंत्री ने घोषणा करते हुए कहा कि ग्रामिणों की मांग के अनुसार सरकार ने खेतों के रास्ते और गांव में कम्युनिटी सेंटर बनाने की मांग को मंजूर किया है। इसके अलावा, उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि गांव के तालाब का नवीनीकरण कार्य अगस्त माह तक पूरा किया जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि अब तक खरक कलां गांव के लिए 60 लाख रुपये दिए गए और इस वित्त वर्ष के लिए 2.30 करोड़ मंजूर किए गए हैं। इसके अलावा, विभिन्न प्रकार की ग्रांट के तहत भी 70 करोड़ रुपये की ग्रांट दी गई है।
कार्यक्रम के दौरान किसान अजीत ने मुख्यमंत्री के समक्ष अपनी बीमारी के ईलाज की जानकारी देते हुए बताया कि वे बहुत गरीब हैं और जीवनयापन मुश्किल से हो रहा है। इस पर मुख्यमंत्री ने संवेदनशीलता दिखाते हुए तुरंत अपने निजी कोष से उन्हें 50 हज़ार रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान करने की घोषणा की। इसके अलावा, जिला उपायुक्त को निर्देश दिए कि उनकी पेंशन और पीला कार्ड भी बनवाया जाए।
12 लाख नए राशन कार्ड बने
मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार के पास शिकायत आती थी कि पात्र लोगों के राशन कार्ड नहीं बने हैं और अपात्र लोग कई प्रकार के लाभ लेते हैं। जिसके लिए सरकार ने परिवार पहचान पत्र के माध्यम से ऑटोमेटिक राशन कार्ड बनाने की प्रक्रिया शुरू की, जिसके तहत लगभग 12 लाख नए राशन कार्ड बने हैं। अब केवल पात्र लोगों को ही सरकारी सुविधाओं का लाभ मिल रहा है। उन्होंने बताया कि खरक कला गांव में भी लगभग 300 नए कार्ड बने हैं।
खरक कलां गांव में 286 लोगों ने बीमारी के लिए मुफ्त इलाज की सुविधा का उठाया लाभ, साढ़े 30 लाख रुपये की राशि अस्पतालों को दी गई
मुख्यमंत्री ने कहा कि इस गांव में 4000 नए आयुष्मान कार्ड बनाए गए हैं। 286 लोगों ने बीमारी के लिए मुफ्त इलाज की सुविधा का लाभ उठा लिया है, जिसके लिए लगभग साढ़े 30 लाख रुपये की राशि अस्पतालों को दी जा चुकी है।
इसके अलावा, राशन कार्ड की तरह वृद्धजनों की पेंशन भी ऑटोमेटिक बनाई जा रही है। इस गांव में भी 22 बुजुर्गों की पेंशन बनी है। सरकार ने मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान योजना के तहत अंतोदय मेले भी लगाएं हैं, जिसमें स्वरोजगार के लिए पात्र परिवारों को ऋण उपलब्ध कराए गए हैं। इस गांव में भी 17 परिवारों को ऋण उपलब्ध कराए गए हैं।
मनोहर लाल ने कहा कि पिछले 8 सालों में युवाओं को लगभग 1 लाख से अधिक सरकारी नौकरियां दी गई हैं। भिवानी जिले में ही 10,000 से अधिक नौकरियां मिली हैं। खरक कलां गांव में 40 से ज्यादा नौकरियां युवाओं को मिली हैं। उन्होंने कहा कि 1 अप्रैल 2023 से हरियाणा रोडवेज की बसों में वृद्धजनों को किराए में 50 प्रतिशत की छूट मिलने की आयु सीमा को 65 वर्ष से घटाकर 60 वर्ष कर दिया है। सरकार की ओर से सभी वृद्धजनों को कार्ड बना कर दिए जाएंगे।
कार्यक्रम के दौरान एक नागरिक ने मुख्यमंत्री के समक्ष खरक कला गांव में रेलवे स्टेशन बनाने की मांग रखी, जिस पर मुख्यमंत्री ने बताया कि स्थानीय सांसद ने रेलवे मंत्रालय को पहले ही इस बारे पत्र लिखा है। इसके अलावा उनकी ओर से भी रेलवे मंत्रालय को पत्र लिखा जाएगा।
किसान अपनाएं सूक्ष्म सिंचाई
मुख्यमंत्री ने गांव के किसानों से आह्वान किया कि वे धान के स्थान पर अन्य वैकल्पिक फसलों की खेती करें और सूक्ष्म सिंचाई को अपनाएं। उन्होंने कहा कि हरियाणा में लगातार भू जल स्तर घटता जा रहा है और सरकार की पहली प्राथमिकता पीने के पानी की जरूरत को पूरा करना है। उसके बाद सिंचाई के लिए पानी उपलब्ध करवाया जाता है।
उन्होंने कहा कि सरकार नहरों पर आरटीडास मशीनें लगा रही है, जिससे स्त्रोत पर कितना पानी आ रहा है और डिस्ट्रीब्यूटरी में कितना पानी जा रहा है, उसका पूरा रिकॉर्ड रखा जाएगा। इससे पानी की चोरी पर भी रोक लगेगी। अब तक 150 ऐसी मशीनें लगाई जा चुकी हैं। इसके अलावा, पानी के पुन: उपयोग के लिए 200 वॉटर ट्रीटमेंट प्लांट और एसटीपी लगाए गए हैं। लगभग 700 क्यूसेक पानी का पुन: उपयोग किया जा रहा है।
हरियाणा देश का पहला राज्य, जहां पंचायतों में महिलाओं को 50 प्रतिशत प्रतिनिधित्व दिया
मुख्यमंत्री ने कहा कि हरियाणा देश में पहला राज्य है जिसने पंचायती राज संस्थाओं में महिलाओं को 50 प्रतिशत प्रतिनिधित्व दिया। इतना ही नहीं, पढ़ी-लिखी पंचायत वाला भी हरियाणा ही पहला प्रदेश है। उन्होंने कहा कि इस वर्ष फील्ड कार्यक्रमों की शुरुआत इस गांव से की है। इस गांव की ऐतिहासिक पृष्ठभूमि भी है।
उन्होंने कहा कि हमारे कार्यकाल के पहले 2 साल में कोरोना महामारी के कारण से कई कार्य नहीं हो पाए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार ने कोरोना महामारी पर नियंत्रण किया। उन्होंने कहा कि हरियाणा सरकार का प्रयास है कि नागरिकों का जीवन किस प्रकार से खुशहाल व समृद्ध बने।
ठेठ ग्रामीण पृष्ठभूमि में हुआ जन-संवाद
आज का यह जन-संवाद कार्यक्रम अपने आप में अनूठा व अलग अंदाज में दिखा। मुख्यमंत्री ने ठेठ हरियाणवी पृष्ठभूमि को छूते हुए चारपाई व मूढ़ों पर बैठकर ग्रामीणों के साथ संवाद किया। ग्रामीण भी मुख्यमंत्री के इस अंदाज पर कायल हो गए और उन्होंने कहा कि इस प्रकार उनके बीच में बैठकर प्रदेश के मुखिया ने उनकी बातों को सुना, यह अपने आप में मुख्यमंत्री का नागरिकों के प्रति प्रेम व अपनेपन के भाव को दर्शाता है।
जन संवाद कार्यक्रम से पहले मुख्यमंत्री ने गांव में स्थित दादी सती जाबदे मंदिर में माथा टेका और सर्वजन के कल्याण की कामना की। इसके बाद मुख्यमंत्री डेरा नाथ संप्रदाय बाबा रणपत मान धापा में भी गए।