बेटे संग धरने पर बैठा हेड कॉन्स्टेबल

611
SHARE

 कैथल।

एक पुलिस कर्मचारी की छुट्टी मंजूर हो गई, लेकिन इसके बावजूद भी रवानगी नहीं दी गई। इस पर पुलिसकर्मी अपने बेटे के साथ लघु सचिवालय में धरने पर बैठ गया। उसका आरोप है कि DSP हेड क्वार्टर में तैनात एक अन्य पुलिस कर्मी ने उसके खिलाफ साजिश रची है। छुट्टी मंजूर होने के बावजूद उसे रवानगी नहीं दी गई। जबकि उसकी छुट्टी एक सप्ताह पहले ही मंजूर हो गई थी।

दरअसल, धरने पर बैठा हेड कॉन्स्टेबल नरेंद्र कुमार चीका के पंजाब बॉर्डर पर नाके पर तैनात हैं। नरेंद्र ने कहा कि वह पिछले कई दिन से बीमार चल रहा है। इसलिए ही छुट्टी ली थी। सोमवार को छुट्टी मंजूर हुई थी, लेकिन रवानगी शनिवार तक भी नहीं दी गई। उसने डीएसपी कार्यालय में कार्यरत पुलिस कर्मी राजेश पर रवानगी नहीं देने का आरोप लगाया है।

नरेंद्र ने बताया कि वह मूलरुप से सोनीपत के गांव बरौदा का रहने वाला है। कुछ समय पहले उसकी ड्यूटी एसपी कार्यालय में लगी थी। इसके बाद पुलिस लाइन में भेजा गया। फिर इसके बाद पिछले करीब 15 दिन से चीका में पंजाब बॉर्डर पर भेजा गया। उसने अपनी बीमारी का हवाला दिया। उसके बावजूद उसे अलग अलग जगहों पर ड्यूटी के लिए भेजा जा रहा है।

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करेSubscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal