खापों का 9 जून तक का अल्टीमेटम, बृजभूषण पर कार्रवाई न हुई तो देशभर में आंदोलन

100
SHARE

पानीपत।

भारतीय कुश्ती संघ के पूर्व अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह और पहलवानों के विवाद में कुरुक्षेत्र में किसान और खाप संगठनों की महापंचायत हुई। मंच पर बोल रहे वक्ता को सर्व जातीय खाप पंचायत के प्रवक्ता सूबे सिंह समैण रोकने गए तो लोगों ने उन्हें हाथ पकड़ कर नीचे बैठा दिया।

इस दौरान खाप और किसान प्रतिनिधियों में विवाद हो गया। खाप नेताओं का कहना था कि पहलवानों के अलावा किसानों के मुद्दे भी पेंडिंग हैं, उन पर भी बातचीत होनी चाहिए। जिसके बाद मामला हाथापाई तक जा पहुंचा। वहीं महापंचायत में किसान नेता राकेश टिकैत समेत 7 सदस्यीय कमेटी का गठन किया गया है। कमेटी पहलवानों के मामले में आगामी निर्णय लेगी।

राकेश टिकैत ने कहा- सरकार को बृजभूषण पर कार्रवाई के लिए 9 जून तक का समय दिया गया है। अगर ऐसा नहीं हुआ तो इसके बाद पूरे देश में खाप महापंचायत करेंगे। नाबालिग पहलवान के पूछे गए सवाल के जवाब में कहा कि अगर पहलवान बालिग है तो उसमें भी तो कोई धाराएं होती होंगी। अगर सरकार कुछ नहीं करेगी तो देश की छवि खराब होगी। इस मुद्दे को इंटरनेशनल स्तर पर ले जाया जाएगा। अगर लड़कियों के जंतर-मंतर पर खींचने की घटना नहीं होती तो आज यहां इकट्‌ठा नहीं होते।

इससे पहले गुरुवार को भारतीय किसान यूनियन (BKU) के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत के आह्वान पर मुजफ्फरनगर के फेमस सोरम चौपाल पर महापंचायत की थी। जहां राकेश टिकैत ने ऐलान किया कि अब 2 जून यानी आज कुरूक्षेत्र में एक संयुक्त महापंचायत होगी। जिसमें हल निकाला जाएगा। उन्होंने कहा कि संवाद में कमी रह गई थी। इस बीच इस मामले को लेकर कुरूक्षेत्र में भी पंचायत की घोषणा पूर्व में हो चुकी थी, इसलिए मुद्दा एक ही होने के कारण पंचायत में फैसले को सुरक्षित रखा गया था।

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करेSubscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal