मंत्री देवेन्द्र बबली ने दिए निजी अस्पताल पर मामला दर्ज करने के आदेश

609
SHARE

भिवानी।

प्रदेश के विकास एवं पंचायत मंत्री देवेन्द्र सिंह बबली की अध्यक्षता में स्थानीय पंचायत भवन में जिला लोक संपर्क एवं कष्टï निवारण समिति की बैठक आयोजित हुई। बैठक में केबिनेट मंत्री बबली ने 14 परिवादों की सुनवाई की और संबंधित अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ पात्र व्यक्तियों को बिना किसी देरी सेे दें। सरकार द्वारा पारदर्शी ढ़ंग से कार्य करने के लिए ऑनलाईन सिस्टम को लागू किया है। नागरिकों को योजनाओं के लाभ के लिए कार्यालयों के अनावश्यक रूप से चक्कर लगाने की जरूरत नहीं पडऩी चाहिए। अधिकारी समयसीमा में नागरिकों की समस्याओं का समाधान करें।
लोक संपर्क एवं कष्टï निवारण समिति बैठक में कुल 14 परिवाद रखे गए जिनमें सात परिवाद पिछली बैठक से संबंधित लंबित थे तथा सात परिवाद नए शामिल थे। लंबित परिवादों में शामिल भिवानी निवासी पीयूष गुप्ता पुत्र हनुमान प्रसाद गुप्ता के परिवाद की सुनवाई करते हुए विकास एवं पंचायत मंत्री बबली ने पुलिस प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग को निर्देश दिए कि पीडि़त व्यक्ति को न्याय मिलना चाहिए, इसके लिए यदि जरूरी है तो पहले से दर्ज एफआईआर को दुरूस्त किया जाए ताकि लापरवाही बरतने वालो को सजा मिल सके। इसी प्रकार से हीरालाल पुत्र शेर सिंह, प्राचार्य राजकीय वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालय बारवास का परिवाद की सुनवाई के दौरान साईबर सैल के अधिकारियों ने बताया कि इस मामले में कार्यवाही की जा रही है, करीब दस हजार रूपए रिक्वरी करके प्रभावित के खाते में भिजवा दिए गए है। इस पर मंत्री ने जल्द से जल्द कार्यवाई करने के निर्देश दिए। गांव दरियापुर निवासी कृष्ण कुमार पुत्र सहीराम के भावांतर भरपाई योजना से संबंधित परिवाद की सुनवाई के दौरान उपायुक्त नरेश नरवाल ने केबिनेट मंत्री बबली को बताया कि इस मामले में जांच की जा रही है। कृषि विभाग द्वारा रिकार्ड को मंगवाया जा रहा है। जिले में इस मामले की जांच चल रही है।
स्थानीय विद्या नगर से औमप्रकाश पुत्र चंदुराम के परिवाद की सुनाई पर कार्यवाई करते हुए पुलिस जांच अधिकारी ने मंत्री बबली को बताया कि इसमें एक एफआईआर का मामला हाई कोर्ट में विचाराधीन है तथा दूसरी एफआईआर पर तफतीश की जा रही है। इसमें मंत्री ने पुलिस को निर्देश दिए कि कोई भी व्यक्ति किसी भी कानून का गलत ढ़ंग से फायदा ना उठाएं और इस मामले की गहनता से जांच की जाए। राजस्व विभाग के अधिकारी भी इस मामले में छानबीन करें कि इस जमीन का वास्तविक मालिक कौन बनता है। स्थानीय विकास नगर निवासी संतोष गुप्ता पत्नी रमेशचंद गुप्ता के परिवाद की सुनाई के दौरान नगर परिषद अधिकारियों ने बताया  कि इस मामले नगर परिषद द्वारा उनसे संबंधित कार्यवाई की जा चुकी है। मंत्री ने नप अधिकारियों को आदेश दिए कि दूसरा पक्ष यदि नहीं आता है तो इस बारे में अखबार में समयसीमा निर्धारित की सूचना दी जाए और प्रभावित पक्ष की संपति उनके नाम की जाए। गांव जताई निवासी धर्मबीर पुत्र जय नारायण के आयुषमान कार्ड होने पर भी ईलाज के पैसे वसूल किए जाने से संबंधित परिवाद की सुनवाई करते हुए केबिनेट मंत्री बबली ने स्वास्थ्य विभाग को संबंधित निजी अस्पताल प्रबंधन के खिलाफ आएफआईआर दर्ज करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि पीडि़त व्यक्ति से ईलाज के नाम पर गैरकानूनी ढ़ंग से वसूले पैसे वापिस दिलवाए जाए।

गांव धनाना निवासी प्रार्थीगण क्रमश: रविन्द्र पुत्र राजाराम, विक्रम पुत्र राजकुमार, प्रदीप पुत्र राजपाल के धोखाधड़ी से संबंधित परिवाद पर सुनवाई करते हुए विकास एवं पंचायत मंत्री को जांच पुलिस अधिकारी ने बताया कि इसमें पुलिस कार्यवाई कर रहीं है। इस पर मंत्री ने पुलिस को जांच में तेजी लाने व धोखाधड़ी करने वालो के खिलाफ सख्त कानूनी कार्रवाई करने व पैसे वसूलने के निर्देश दिए।
बैठक में रखे गांव किरावड़ निवासी राजबाला पत्नी रामकिशन के ईलाज में लापरवाही बरतने से संबंधित परिवाद में विकास एवं पंचायत मंत्री बबली ने स्वास्थ्य विभाग को निर्देश देते हुए कहा कि इसमें चंडीगढ़ मुख्यलय के माध्यम से पीजीआई रोहतक के चिकित्सकों के बोर्ड से जांच करवाई जाए ताकि पीडि़त को न्याय मिल सके। निवासी लोहारू वार्ड नंबर 11 से रामप्यारी पत्नी सत्यानारायण सैनी के नगर पालिका से संबंधित परिवाद की सुनवाई करते हुए मंत्री ने एसडीएम की अध्यक्षता में कमेटी द्वारा जांच करवाने के निर्देश दिए। गांव गुजरानी से महाबीर सिंह पुत्र भानाराम के मामले में विकास एवं पंचायत विभाग के अधिकारियों को पट्टïे आदि की अच्छी तरह से जांच के निर्देश दिए।  स्थानीय गिरीराज कालोनी निवासी एडवोकेट रविन्द्र कुमार पुत्र मामनचंद के जमीन से संबंधित मामले में सुनवाई के दौरान संबंधित अधिकारियों ने बताया कि इस मामले में प्रभावित पक्ष सिविल कोर्ट या तहसीलदार के समक्ष रजिस्ट्री को कैनसंल करने के लिए अपील कर सकते हैं।

गांव मंढ़ाणा निवासी रितू रानी पत्नी सोनू पुत्र रघबीर सिंह ऋण के आवेदन को सात-आठ महीने बाद रद्द किए जाने से संबंधित परिवाद की सुनवाई करते हुए विकास एवं पंचायत मंत्री बबली ने संबंधित अधिकारियों को जांच कर रिर्पोट पेश करने को कहा। इसी मामले में उन्होंने कहा कि प्रार्थी की शिकायत पर की उनकी बिना सहमती सीएम विंडो फाईल करने की भी जांच की जाए। स्थानीय न्यू हाउसिंग बोर्ड निवासी प्रवेश पुत्र राजकपूर श्योराण के परिवाद की सुनवाई करते हुए उन्होंने पुलिस को कार्यवाई में तेजी लाने के निर्देश दिए। इसके साथ ही उन्होंने अभिभावकों व युवाओं से अपील करते हुए कहा कि वे सरकार द्वारा अधिकृत एंजेटों के माध्यम से ही विदेश जाए। न्यू पटेल पार्क शंकर गार्डन लाईनपार बहादुरगढ़ निवासी दलबीर सिंह फौगाट के डाकघर के खाते से उसके फर्जी ढ़ंग से पैसे निकलवाने से संबंधित परिवाद की सुनवाई करते हुए विकास एवं पंचायत मंत्री  बबली ने इस मामले में डाकविभाग को एक महीने के अंदर जांच पूरी करने व रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इस प्रकार के फर्जी मामलों की पूरे प्रदेश से शिकायत आ रही हंै, इन पर अंकुश लगाना जरूरी है।

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करेSubscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal