2 हजार होमगार्डों को राहत नहीं, नौकरी से निकालने का लेटर जारी

199
SHARE

चंडीगढ़।

हरियाणा में FCI (फूड कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया) के गोदामों में सेवा दे रहे होमगार्ड के जवानों की सेवा समाप्त करने का मामला पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट पहुंच गया है। पंचकूला की अखिल भारतीय होमगार्ड कल्याण समिति ने एफसीआई के उस पत्र को खारिज करने की मांग की है, जिसके तहत एक फरवरी से होमगार्ड की सेवाओं को समाप्त करने का निर्णय लिया गया है।

याचिका दाखिल करते हुए समिति ने हाईकोर्ट को बताया कि हरियाणा में मौजूद एफसीआई के गोदामों में दशक भर से अधिक समय से होमगार्ड के जवान सेवा दे रहे हैं। अब अचानक एफसीआई ने दो पत्र जारी कर इन जवानों की सेवा आगे जारी न रखने का निर्णय ले लिया है। ऐसे में इनके सामने नौकरी का संकट पैदा हो गया है।

याचिकाकर्ताओं ने बताया कि उनकी सेवा समाप्त करके निजी सुरक्षा एजेंसी को सुरक्षा का जिम्मा एफसीआई सौंपना चाहती है, जो गलत है। ऐसा करके एफसीआई निजी सुरक्षा एजेंसी को लाभ पहुंचाना चाहती है। यदि इस पत्र को प्रभावी होने दिया गया तो प्रदेश में एफसीआई के गोदामों में सेवा दे रहे हजारों होमगार्ड का रोजगार छिन जाएगा।

याचिकाकर्ताओं ने हाईकोर्ट से अपील की कि एफसीआई द्वारा जारी दोनों पत्रों को खारिज किया जाए और याचिका लंबित रहते इन पर रोक लगाई जाए। हालांकि कोर्ट ने होमगार्डों को राहत नहीं देते हुए कहा है कि नौकरी पर रखना या नहीं रखना एफसीआई के विवेक पर निर्भर करता है।

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करेSubscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal