कोई भी छात्रा स्वयं को कमजोर न समझे और अपने अधिकारों के प्रति जागरूक रहे-रेणु भाटिया

36
SHARE

भिवानी।

कोई भी पुरूष महिला की मर्जी के खिलाफउसे घूर भी नहीं सकता है। महिलाएं अपने खिलाफ होने वाले दुव्र्यवहार एवं अत्याचार को रोकने के लिए सबसे पहले नहीं कहना सीखे और किसी भी अशोभनीय व्यवहार का तुरंत विरोध करें। यह पहला कदम महिलाओं के प्रति दुरव्यवहार व अत्याचार को रोकने में मील का पत्थर साबित होगा।
यह बात हरियाणा राज्य महिला आयोग की अध्यक्षा रेणु भाटिया ने आज स्थानीय आदर्श महिला महाविद्यालय के ऑडिटॉरीयम में लीगल अवेर्नेस व साइबर क्राइम विषय पर जागरूकता कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए कहीं। कार्यक्रम में उप-पुलिस अधीक्षक हितेश यादव, डीएलएसए भिवानी की पैनल अधिवक्ता रितु रानी, आदर्श महिला महाविद्यालय की प्राचार्या रचना अरोड़ा सहित महिला आयोग के पदाधिकारी , सामाजिक कार्यकर्ता व महाविद्यालय की छात्राएंं उपस्थित रहीं।
कार्यक्रम के दौरान उपस्थित छात्राओं को सम्बोधित करते हुए हुए महिला आयोग की अध्यक्षा रेणु भाटिया ने कहा कि छात्राएंं पुलिस व समाज के प्रति पूर्वाग्रह से खुद को आज़ाद करे। कोई भी छात्रा स्वयं को कमजोर न समझे और अपने अधिकारों के प्रति जागरूक रहे। हर परिस्थिति का सामना साहस के साथ करे। अपने मन के अंदर के भय को शिक्षा व जागरूकता के साथ दूर करे और भविष्य में आने वाली सभी चुनौतियों का डटकर सामना करे।
उन्होंने छात्राओं से आह्वïन किया कि वो अपने संपर्क में आने वाली कम से कम दो लड़कियों को जागरूक बनाएं ताकि वे आपने खिलाफ होने वाले अत्याचार का विरोध कर सकें। इसकी शुरुआत आप अपने घर से ही शुरू करे। यदि परिवार या आस पड़ोस में किसी महिला के खिलाफ कोई अन्याय होते देखे तो उसका विरोध करे और परिजनों को इस बारे जागरूक करें। यदि परिवार व समाज के सभी लोग जागरुक हो कर अपने आस-पास महिलाओं के प्रति होने वाले अत्याचार के प्रति सचेत रहें।
उन्होंने कहा कि आज के समय साईबर क्राईम की घटनाएं बढ़ती जा रही है। महिलाएं कभी भी अपना मोबाइल किसी भी व्यक्ति को न दे। इंटरनेट पर कई ऐसे एप है है जिन्हे पाँच सेकंड में भी डाउनलोड करके किसी और के फ़ोन पर आपकी निजी जानकारी चुराई जा सकती है। उन्होंने कहा कि यदि आप जाने अनजाने में कोई महिला या लडक़ी किसी प्रकार के साइबर क्राइम का शिकार हुई है तो वे इसके बारे में किसी न किसी व्यक्ति से अवश्य बात करे और बेहिचक पुलिस या महिला आयोग से मदद लें।
उन्होंने महिलाओं से आह्वïन किया कि वे कार्यस्थल पर होने वाले लैंगिक भेदभाव के बारे में भी जागरुक रहे। ऐसे किसी भी घटना के खिलाफअपनी आवाज उठाए और अपने खिलाफ होने वाले अत्याचार या दुव्र्यवहार को पहले ही कदम पर दृढ़ता से विरोध करे। उन्होंने आयोग के समक्ष आने वाले मामलों का उदाहरण देते हुए कहा कि जरा सी हिचक व संकोच कई बार अपराधियों को बड़ा क्राइम करने के लिए प्रोत्साहित करती है। इसलिए किसी भी असहज परिस्थिति पर संज्ञान जरूर लें।
उप पुलिस अधीक्षक हितेश यादव ने इस मौके पर छात्राओं को सम्बोधित करते हुए कहा कि आज का समय टेक्नॉलोजी का युग है। आज के जमाने में टेक्नॉलोजी ने हर क्षेत्र के साथ-साथ क्राइम के क्षेत्र में भी अपना प्रभाव दिखाया है। साइबर क्राइम इसका ज्वलंत उदाहरण है। आज साइबर बुलींग व साइबर स्टाकिंग बहुत कॉमन अपराध बन चुका है। इसका कारण यह है की अक्सर हम सभी अपनी निजी जानकारी सोशल मीडिया पर संाझा करने लगे है। सोशल मीडिया का प्रयोग करते समय सभी अपनी प्राइवेसी का जरूर ध्यान रखे। किसी भी अनजान व्यक्ति के साथ निजी जानकारी संाझा न करें और न ही अनजान व्यक्ति की फ्रेंड रिक्वेस्ट स्वीकार करे।
उन्होंने कहा कि यदि कोई लडक़ी या महिला साइबर बुलिंग या साइबर स्टाकिंग का शिकार होती है तो निस्संकोच पुलिस थाने में जा कर इसकी शिकायत दर्ज करवायें। उन्होंने कहा कि पुलिस आपकी शिकायतों पर तुरंत कार्यवाही करेगी तथा आपकी पहचान भी गोपनीय रखी जाएगी। अपनी शिकायत दर्ज करवाने के लिए महिला या लडक़ी के साथ परिजन का आना भी जरूरी नहीं है। पुलिस महिला की सुरक्षा के प्रति संवेदनशील है। यदि कोई महिला स्वयं आयोगमहिलाएटदारेटजीमेलडॉटकॉम भेज सकते है। उसके साथ-साथ पुलिस की हैल्प लाईन नम्बर 1930 व 112 पर भी दर्ज करवा सकते है।
डीएलएसए भिवानी की पैनल अधिवक्ता रितु रानी ने उपस्थित छात्राओं को महिलाओं के संदर्भ में लीगल जानकारी देते हुए बताया कि संविधान में महिलाओं को व्यापक अधिकार दिए गए है और समय-समय पर इनमें आवश्यकतानुसार संशोधन भी किए गए है। उन्होंने पोस्को एक्ट, घरेलू हिंसा से संबंधित एक्ट, एसिड अटैक से पीडि़त महिलाओं से संबंधित कानूनी जानकारी भी दी।
इस अवसर पर महिला बाल विकास परियोजना अधिकारी वैशाली, दर्शना मालवाल, महिला आयोग की अधिवक्ता पूजा लोधी, हितेष मेहता, अंकुर, नवीन कुमार सहित पुलिस प्रशासन व कॉलेज की स्टाफ मौजूद था।

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करेSubscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal