दो दिन में खुली पोल: गणतंत्र दिवस पर सम्मानित बागवानी अधिकारी रिश्वत लेते गिरफ्तार, अब सम्मान लिया जाएगा वापस

533
SHARE

पानीपत । हरियाणा के पानीपत में एक अधिकारी की पोल दो दिन में खुल गई। गणतंत्र दिवस पर उत्कृष्ट कार्यों के लिए सम्मानित बागवानी अधिकारी को विजिलेंस ने रिश्वत लेते धर दबोचा है।

73वें गणतंत्र दिवस समारोह में सम्मानित किए गए जिला बागवानी अधिकारी महावीर शर्मा को विजिलेंस ने शुक्रवार को 30 हजार रुपये की रिश्वत के साथ रंगे हाथ पकड़ा। अब उनका सम्मान वापस लिया जाएगा। डीएसपी विजिलेंस नरेंद्र कुमार ने बताया कि दोपहर करीब डेढ़ बजे गांव पत्थरगढ़ निवासी किसान तनवीर ने शिकायत दी थी।

तनवीर ने बताया कि उन्होंने सब्जियों की फसल पर मिलने वाली सब्सिडी के लिए नवंबर 2021 में आवेदन किया था। जिला बागवानी अधिकारी तीन माह से चक्कर कटवा रहे थे और आवेदन आगे बढ़ाने के लिए 30 हजार रुपये रिश्वत मांग रहे थे। तनवीर ने इसकी शिकायत विजिलेंस से की। इसके बाद अनाज मंडी स्थित कार्यालय से महावीर शर्मा को रिश्वत लेते रंगे हाथों दबोच लिया गया। उन पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। आगे की कार्रवाई नियमानुसार अमल में लाई जाएगी।

उत्कृष्ट कार्यों के लिए हुए थे सम्मानित
जिला बागवानी अधिकारी महावीर शर्मा को गणतंत्र दिवस पर शिवाजी स्टेडियम में आयोजित जिला स्तरीय कार्यक्रम में मंडलायुक्त संजीव वर्मा ने उत्कृष्ट कार्यों के लिए सम्मानित किया था। मगर रंगे हाथ पकड़े जाने के बाद उनकी चारों तरफ किरकिरी हो रही है। उनसे सम्मान भी वापस लेने का फैसला लिया गया है।

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करेSubscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal