सीबीएलयू के द्वार को ताला जडऩे पहुंचे इनसो पदाधिकारियों से पुलिस ने की धक्का-मुक्की

67
SHARE
सीबीएलयू के समक्ष दिया धरना, ज्ञापन सौंपकर दिया 24 घंटे का अल्टीमेटम
छात्रों के हित में पुलिस की लाठी या केस से डरने वाली नहीं इनसो : सेठी धनाना
भिवानी। 
ऑनलाईन व ऑफलाईन दोनों तौर पर परीक्षाएं आयोजित करवाए जाने के मामले को लेकर चौै. बंसीलाल विश्वविद्यालय व विद्यार्थी अपनी-अपनी जिद पर अड़े हुए है। एक तरफ जहां विद्यार्थी कोरोना महामारी का तर्क देकर ऑनलाईन व ऑफलाईन दोनों तौर पर परीक्षाएं आयोजित करवाए जाने की मांग को लेकर बार-बार धरने-प्रदर्शन कर रहा है तो वही सीबीएलयू प्रशासन इसका कोई ठोस हल नहीं पा रहा है। जिसके विरोध में बार-बार विद्यार्थियों को सडक़ों पर उतरना पड़ रहा है। इसी के तहत ऑफलाईन व ऑनलाईन दोनों विकल्पों से परीक्षा करवाएं जाने, सीबीएलयू के नए परिसर तक सडक़ा निर्माण करवाए जाने, सीबीएलयू के मुख्य द्वार से जहां तक कक्षाएं लगती है वहां तक ई-रिक्शा लगाए जाने, सीबीएलयू के प्रेमनगर कैंपास में लिफ्ट शुरू करवाए जाने तथा अघोषित परीक्षा परिणाम जल्द घोषित किए जाने की मांग को लेकर वीरवार को इनसो एक बार फिर से बिफरी तथा सीबीएलयू के मुख्य द्वार को ताला जडऩे पहुंची। इस दौरान पुलिस कर्मचारियों ने इनसो पदाधिकारियों के साथ धक्का-मुक्की की, जिसके बाद इनसो पदाधिकारी सीबीएलयू के समक्ष धरने पर बैठ गए। एक घंटे के हंगामे के बाद उपकुलपति ने ज्ञापन लेकर इनसो की मांग पर विचार करने का आश्वासन दिया। इस मौके पर इनसो जिला अध्यक्ष सेठी धनाना ने कहा कि विद्यार्थियों की मांगों को लेकर गत दिनों भी उन्होंने विश्वविद्यालय का घेराव किया गया था, तब सीबीएलयू प्रशासन को तीन दिन का अल्टीमेटम दिया था, जिसके तहत मांग पूरी ना होने के विरोध में वे फिर से सडक़ों पर उतरे है। उन्होंने कहा कि बहुत से विश्वविद्यालय ऑनलाइन परीक्षाएं आयोजित करवा रहे है। इसी को लेकर वो भी सीबीएलयू में ऑनलाइन परीक्षाएं की कर रहे थे, लेकिन सीबीएलयू प्रशासन लोकतंत्र की हत्या कर छात्रों के साथ दुव्र्यवहार कर रहा है। उन्होंने छात्रों की मांग को लेकर इनसो पुलिस के लठ खाने या मुकदमा दर्ज होने से डरने वाली नहीं हैं। इस दौरान सेठी ने कहा कि 24 घंटे में सीबीएलयू प्रशासन ने उनकी मांग पूरी नहीं की तो वो कुलपति कार्यालय पर धरना देंगे। इस मौके पर शहीद भगत सिंह छात्र संगठन के अध्यक्ष सोनू ग्रेवाल बामला ने कहा कि सीबीएलयू प्रशासन अपनी जिद के चलते विद्यार्थियों के भविष्य के साथ खिलवाड़ करने पर उतारू है, लेकिन वे ऐसा नहीं होने देंगे। उन्होंने कहा कि जब तक छात्रों की मांग पूरी नहीं हो जाती, वे संघर्ष से पीछे नहीं हटेंगे। इस अवसर पर इस अवसर पर गोविंद उमरावत, दीपांशु, आकाश बजीणा, यमन शर्मा, दीपेन ग्रेवाल बामला, अंकित, दिनेश, जयभगवान, मोहित घणघस, चिंटू लेघां, अपूर्व यादव, प्रीतम गोलागढ़, भोलू घणघस, आकाश, नीरज, मोहित, अमित गुज्जर, अमनदीप, सुधांशु शर्मा, मिठू राजपूत, साहिल, हेमंत डागर, मोनू भारद्वाज, राहुल कायला, संजय ग्रेवाल, हेमंत, संजीव चौधरी, साहिल धनाना, अजय लोहानी, संदीप बेरला, विकास कालीरमन, दिनेश बेली, विक्रम धनाना सहित अनेक छात्र एवं इनसो पदाधिकारी मौजूद रहे।
अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करेSubscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal