प्रेम धमीजा बने राष्ट्रीय जन उद्योग व्यापार संगठन के प्रधान

81
SHARE
भिवानी हलचल ।
राष्ट्रीय जन उद्योग व्यापार संगठन की बैठक एक निजी रेस्त्रा में सम्पन्न हुई। बैठक की जानकारी देते हुए संगठन के प्रचार सचिव एवं मीडिया प्रभारी संजीव कौशिक ने बताया कि कोरोना महामारी के चलते कोविड प्रोटोकॉल के तहत सादगी से संगठन के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष अशोक बुवानीवाला व प्रदेश उपाध्यक्ष देवराज महता की अध्यक्षता में इस बैठक आयोजन किया गया। बैठक में सर्वसम्मति से प्रेम धमीजा को प्रधान, हरिश ठकराल को महासचिव, प्रचार सचिव व मीडिया प्रभारी संजीव कौशिक, कोषाध्यक्ष दीपक जांगड़ा को चुना गया। नवनियुक्त पदाधिकारियों को बधाई देते हुए अशोक बुवानीवाला ने कहा कि जन उद्योग व्यापार संगठन देशभर के व्यापारियों की आवाज बनकर काम कर रहा है। हरियाणा में भी संगठन व्यापारी हितों के लिए लगा हुआ है और प्रदेश के कोने-कोने में संगठन की इकाईयों का गठन किया जा रहा है। बैठक में बुवानीवाला ने कहा कि घरेलू व्यापार के लिए एक राष्ट्रीय व्यापार नीति की घोषणा हो। राष्ट्रीय व्यापारी कल्याण बोर्ड का तुरंत गठन, जीएसटी कानून की दोबारा समीक्षा कर उसको सरल बनाया जाए। सभी प्रकार के लाइसेंस निरस्त कर एक लाइसेंस की व्यवस्था हो, व्यापारियों को आसान शर्तों पर बैंकों से कर्ज मिले। बुवानीवाला ने कहा कि केन्द्र व प्रदेश सरकार इन मांगों पर तुरंत ध्यान दें ताकि देशभर के व्यापार को बचाया जा सकें। खुदरा व्यापार की समस्या को उठाते हुए उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार को देश के खुदरा व्यापार को बचाने के लिए बहुराष्ट्रीय ई-कॉमर्स कंपनियों एवं अन्य विदेशी कंपनियों के चंगुल से छुड़ाने एक बेहतर नीति बनाएं जाने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि ई-कॉमर्स व्यापार के लिए तुरंत ई-कॉमर्स पालिसी जारी हो। केन्द्र सरकार को ई-कामर्श कम्पनियों पर लगाम कसनी चाहिए जिसके अंतर्गत अनैतिम कारोबार करने वाली ये कम्पनियां नियम कायदों से बाहर जाकर देश के खुदरा व्यापार को कोई नुकसान न पहुंचा सकें। इस मौके पर प्रदेश उपाध्यक्ष देवराज महता ने कहा कि कोविड काल में जिस तरह व्यापारियों की समस्याएं बढ़ती जा रही है, उनके निदान के लिए सभी व्यापारी भाईयों को एक मंच पर एकत्रित कर उनकी समस्याओं को सरकार तक पहुंचाया जा रहा है। देवराज महता ने कहा कि छोटे एवं मध्यम व्यापारियों के सामने आज रोजी-रोटी का संकट पैदा हो गया है। इन हालात में सरकार जो कदम उठा रही है वो मात्र गिने-चुने पुंजीपति व्यापारियों के लिए हितकारी है। बाकी व्यापारियों तक किसी भी प्रकार की कोई सहायता उन तक नहीं पहुंच रही है। प्रधान प्रेम धमीजा ने कहा कि आगामी 27 जून को संगठन की भिवानी इकाई की एक बैठक का आयोजन किया जाएगा और शेष कार्यकारिणी का विस्तार किया जाएगा। इस मौके पर हरीश हलवासिया, गुलशन ग्रोवर, अमित महता, अमन गुप्ता, रवि शर्मा, अखिल कुमार, मुकेश बंसल सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित रहें।