रेप के आरोपी प्रिंसिपल व चपरासी सस्पेंड

203
SHARE

 हिसार।

हांसी उपमंडल के सरकारी स्कूल में 11 वर्षीय बच्ची के साथ रेप करने वाले स्कूल चपरासी और मामले को दबाकर रखने वाली महिला प्रिंसिपल को शिक्षा निदेशालय ने सस्पेंड कर दिया है। वहीं आरोपी को पुलिस ने बीती शाम गिरफ्तार कर लिया है।

आरोपी चपरासी ने बच्ची को लड्डू खिलाने के बहाने स्कूल के क्लर्क ऑफिस में बुलाया था और वहीं पर उसके साथ रेप किया। जिला शिक्षा अधिकारी कुलदीप सिहाग ने बताया कि इस मामले की विभागीय जांच के लिए डिप्टी DEO की अध्यक्षता में एक कमेटी का गठन किया गया है। कमेटी इस पूरे मामले में प्रिंसिपल की भूमिका की जांच करेगी। साथ ही चपरासी की भी विभागीय जांच करेगी। चपरासी को सस्पेंड करने के आदेश शुक्रवार शाम को आ गए थे। आज शनिवार दोपहर को प्रिंसिपल को भी सस्पेंड करने के आदेश आ गए है।

शिकायत में पीड़िता के पिता ने बताया था कि उसकी 11 वर्षीय बच्ची गांव के गर्ल्स सीनियर सेकेंडरी स्कूल में छठी कक्षा में पढ़ती है। शाम के साढे़ तीन बजे छुट्टी होने के बाद जब अपने घर पहुंची तो वह बहुत डरी हुई थी और रो रही थी। उन्होंने बेटी से पूछा तो उसने बताया कि स्कूल में सुलखनी निवासी रामफल चपरासी के पद पर तैनात है। उसने 7 फरवरी को दोपहर के 1 से 2 बजे के बीच क्लर्क के कमरे में बुलाया। उसे लड्डू देने के बहाने छेड़छाड़ की तथा गालों पर चूमा। उसके साथ रेप किया उसके बाद उसने कहा कि अगर तूने यह बात किसी को बताई तो तुझे जान से मार दूंगा।

इस घटना के बारे में प्रिंसिपल को बताया तो उनकी बेटी को बुलाकर धमकाया। प्रिंसिपल ने कहा कि अगर तुमने बात किसी को बताई तो मैं तुझे स्कूल से निकाल दूंगी। जिसके बाद उन्होंने पुलिस में शिकायत दी। पुलिस ने विभिन्न धाराओं व पोक्सो एक्ट के तहत स्कूल के चपरासी रामफल व प्रिंसिपल के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया।

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करेSubscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal