वीर- शहीदों का सम्मान सर्वोपरि : डी सी नरेश नरवाल

53
SHARE

भिवानी।

शहीद राष्टï की अमूल्य धरोहर हैं। शहीदों की शहादत को भुलाया नहीं जा सकता। जिला प्रशासन के लिए शहीदों का सम्मान सर्वोपरि है। विजय दिवस के उपलक्ष्य में नेहरू पार्क स्थित शहीद स्मारक पर पुष्प चक्र अर्पित कर शहीदों को नमन करते हुए उपायुक्त नरेश नरवाल ने यह बात कही। डी सी ने शहीदों को नमन करने उपरांत शहीद स्मारक पर वेटरंस द्वारा 1971 के भारत -पाक युद्घ पर आधारित आयोजित प्रदर्शनी का अवलोकन किया और शहीद परिजनों व पूर्व सैनिकों को सम्मानित किया।
डी सी नरवाल ने कहा कि वर्ष 1971 में भारत-पाक युद्ध के दौरान हमारी सेना ने अपने अदम्य साहस का परिचय देते हुए मात्र 16 दिन में ही पाक सेना को बुरी तरह परास्त कर दिया। इस युद्घ में भिवानी जिला के सैनिकों का उल्लेखनीय योगदान रहा । वीर जवानों के पराक्रम व अदम्य साहस की बदौलत पाक पर ऐतिहासिक विजय पाई। उन्होंने कहा कि जब-जब देश पर कोई बाहरी संकट आया, तब तब हमारे वीर सैनिकों ने दुश्मन को मुंह तोड़ जवाब दिया।
डी सी ने कहा कि अमर वीरों की शहादत हमेंशा युवा पीढ़ी के लिए प्रेरणा का स्रोत रही है। विजय दिवस का आयोजन हम सभी को देश के प्रति समर्पित होने की प्रेरणा देता है। डी सी ने शहीद स्मारक पर सेना वेटरंस संगठन भिवानी द्वारा 1971 के युद्घ पर आयोजित प्रदर्शनी की प्रशंसा करते हुए कहा कि इस तरह के प्रयास जारी रहने चाहिए। दौरान जिला सैनिक एवं अर्ध सैनिक कल्याण बोर्ड सचिव कर्नल अनिल गुलिया (सेवानिवृत) सहित अनेक भूतपूर्व सैनिक एवं गणमान्य नागरिक उपस्थित रहे।
जिलाभर के 61 राजकीय विद्यालयों का नामकरण हुआ शहीदों के नाम
उपायुक्त नरेश नरवाल ने विजय दिवस के अवसर पर जिलाभर के 61 राजकीय विद्यालयों व आईटीआई को शहीद जवानों के नामकरण करने को मंजूरी दी है। शहीदों की शहादत को अमर बनाने और युवा पीढ़ी को देशभक्ति के प्रति प्रेरित करने के लिए जिला सैनिक व अद्र्घसैनिक कल्याण बोर्ड द्वारा भेजी गई सूची में शामिल सभी 61 अमर शहीदों के नाम से उनके पैतृक गांव के स्कूल को शहीद के नाम से जाना जाएगा।
डी सी ने जिला शिक्षा विभाग के अधिकारियों को इस संबंध में निर्देश जारी करते हुए कहा कि नामकरण की प्रक्रिया पूरे सम्मान के साथ पूरी की जाए। उन्होंने सचिव जिला सैनिक एवं अद्र्र्घ सैनिक कल्याण बोर्ड क र्नल ए के गुलिया (सेवानिवृत) से कहा कि जिला में सभी अमर शहीदों के नाम पर स्कूल या किसी अन्य संस्थान का नाम होना चाहिए। उन्होंने सभी शहीदों के फोटो एकत्रित करने के लिए भी निर्देश दिए।
इन शहीदों के नाम पर हुए स्कूल
वीर शहीद हवलदार दयाचन्द (शौर्य चक्र) के नाम गांव ढाणी भाकरां खण्ड सिवानी के नाम पर राजकीय उच्च विद्यालय का नामकरण किया गया है। इसी प्रकार से वीर शहीद नायब सुबेदार सोमबीर ग्राम पंचायत मि_ïी खण्ड सिवानी के नाम पर राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय का नामकरण, फते सिंह के नाम ग्राम पंचायत गरवा खण्ड सिवानी के नाम पर राजकीय उच्च विद्यालय का नामकरण, रामफल के नाम ग्राम पंचायत कालोद खण्ड सिवानी के नाम पर राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय, महीपाल सिंह के नाम ग्राम पंचायत मतानी का राजकीय उच्च विद्यालय, सुबेदार धर्म सिंह के नाम ग्राम पंचायत हालुवास माजरा का राजकीय माध्यमिक विद्यालय, सिपाही रघुनाथ सिंह के नाम ग्राम पंचायत प्रहलादगढ का राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय, नायब सुबेदार सुन्दर सिंह के नाम ग्राम पंचायत खरकं खुर्द के नाम पर राजकीय माध्यमिक विद्यालय, होशियार सिंह के नाम ग्राम पंचायत गौरीपुर का राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय का नामकरण किया गया है।
उन्होंने बताया कि वीर शहीद राईफलमैन विक्रम सिंह के नाम ग्राम पंचायत हालुवास का राजकीय कन्या माध्यमिक विद्यालय का नामकरण किया गया है। उन्होंने बताया कि सिपाही मानसिंह के नाम ग्राम पंचायत देवसर, सिपाही रामकुमार के नाम ग्राम पंचायत देवसर का राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय, फते सिंह के नाम ग्राम पंचायत बडेसरा का राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय, कृष्ण के नाम ग्राम पंचायत तिगड़ाना का राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय, बीरसिंह के नाम ग्राम पंचायत तिगड़ाना का राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय, प्रताप सिंह के नाम ग्राम पंचायत तिगड़ाना का राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय, सुरेश कुमार के नाम ग्राम पंचायत मिताथल का राजकीय वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालय का नामकरण किया गया है। उन्होंने बताया कि हवलदार विरेन्द्र के नाम ग्राम पंचायत वीरन का राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय, दलीप सिंह के नाम ग्राम पंचायत सैय का राजकीय वरिष्ठ प्राथमिक पाठशाला, राजपाल सिंह के नाम ग्राम पंचायत कलिंगा का राजकीय वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालय नजदीक बस स्टैंड, शहीद शीशराम के नाम गांव कलिंगा का राजकीय प्राथमिक पाठशाला, शहीद धनपत सिंह के नाम गांव कलिंगा का राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय, गिरवर सिंह के नाम ग्राम पंचायत बापोड़ा का राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय, परमानन्द के नाम बामला-द्वितीय का राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय, सिपाही करतार सिंह के नाम ग्राम पंचायत बामला-द्वितीय का राजकीय प्राथमिक पाठशाला, नायक शीशपाल सिंह के नाम बामला-प्रथम का राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय, सिपाही कपूर सिंह के नाम ग्राम पंचायत बामला-प्रथम का राजकीय प्राथमिक पाठशाला, सतीश कुमार के नाम गांव मानहेरू का राजकीय कन्या प्राथमिक पाठशाला, हवलदार लख्मीचन्द के नाम ग्राम पंचायत धनाना-प्रथम का राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय, सिपाही खजान सिंह के नाम धनाना-प्रथम का राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान का नामकरण किया गया है।
उपायुक्त ने बताया कि शहीदों की याद में राजकीय विद्यालयों का नामकरण में वीर शहीद कैप्टन ओपी दलाल के नाम ग्राम पंचायत घुसकानी का राजकीय उच्च विद्यालय का नामकरण किया गया है। इसी प्रकार से शहीद रामगोपाल के नाम गांव निमड़ीवाली का राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय, महताब सिंह के नाम निमड़ीवाली का राजकीय कन्या प्राथमिक पाठशाला, नायक सुरेन्द्र सिंह ग्राम पंचायत दिनोद का राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय, रामचन्द्र ग्राम पंचायत चन्दावास का राजकीय उच्च विद्यालय, सज्जन कुमार के नाम शिमलीबास का राजकीय उच्च विद्यालय, हरनारायण के नाम गांव सुंगरपुर का राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय, मानसिंह के नाम गांव जुई बिचली का राजकीय प्राथमिक पाठशाला, मुशीराम के नाम कैरू प्रथम, भलेराम के नाम ग्राम टिटानी का राजकीय उच्च विद्यालय, नायक ठंडीराम के नाम ग्राम धारवानबास का राजकीय उच्च विद्यालय, अमर सिंह के नाम ग्राम पंचायत देवराला का राजकीय उच्च विद्यालय देवराला, रिसाल सिंह के नाम ग्राम पंचायत जुई कला का राजकीय मिडल विद्यालय, रामकुमार के नाम ग्राम जमालपुर का राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय, लेफ्टिनेट पुष्पेन्द्र बडसरा के नाम ग्राम पंचायत अलखपुरा का राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय, सुबेदार निहाल सिंह के नाम ग्राम पंचायत सुई का राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय, हवलदार रणसिंह के नाम गांव सुई का राजकीय कन्या उच्च विद्यालय, सुबेदार लज्जेराम के नाम ग्राम रोहनात का राजकीय उच्च विद्यालय, धर्मवीर के नाम ग्राम पंचायत कुंगड का राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय, लाजपत के नाम ग्राम पंचायत कुंगड का राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय तथा शहीद सत्यवान के नाम ग्राम पंचायत कुंगड का राजकीय प्राथमिक पाठशाला का नामकरण किया गया है।
डीसी ने बताया कि वीर शहीद वेद प्रकाश के नाम ग्राम पंचायत बलियाली का राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय, अमर सिंह के नाम ग्राम पंचायत बलियाली का राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय, सहीराम के नाम ग्राम पंचायत बडसी गुजरान का राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय, सुखीराम के नाम ग्राम पंचायत बडसी गुजरान का राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय, बनवारी लाल के नाम ग्राम पंचायत कुडल का राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय, काशीराम के नाम ग्राम पंचायत अहमदबास का राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय, सुबेदार जयसिंह के नाम ग्राम पंचायत झाझड़ा श्योराण का राजकीय मिडील विद्यालय, कंवर सिंह के नाम ग्राम पंचायत सेहर का राजकीय माध्यमिक विद्यालय, प्रभुराम के नाम ग्राम पंचायत फरटीया केहर का राजकीय प्राथमिक पाठशाला, वीर शहीद हरीसिंह के नाम ग्राम पंचायत अमीरवास का राजकीय प्राथमिक पाठशाला का नामकरण किया गया है।

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करेSubscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal