रोहतक : पहरावर में परशुराम जंयती विवाद, देर रात में उखाड़ा टेंट

336
SHARE

रोहतक।

रोहतक स्थित पहरावर में भगवान परशुराम जयंती कार्यक्रम विवाद को लेकर नवीन जयहिंद शुक्रवार को कोर्ट में पेश हुए। कोर्ट ने निगम और संस्था को 4 बजे तक जमीन के कागजात पेश करने के लिए कहा है।

इस दौरान उन्होंने मुख्यमंत्री को चेतावनी देते हुए कहा कि वे पहरावर में ही भगवान परशुराम जयंती मनाएंगे। इसके लिए चाहे कुछ भी करना पड़े। वे पीछे हटने वाले नहीं हैं। जयहिंद ने कहा कि रात को प्रशासन ने टेंट उखाड़कर कायरतापूर्ण कार्य किया है। सरकार को भगवान परशुराम से इतनी नफरत है कि सुबह 10 बजे तक टेंट नहीं रहने दिया। यह जमीन गौड़ ब्राह्मण सभा को दी हुई है और भगवान परशुराम के लिए यह जमीन दान की गई थी। प्रशासन ने रात को आकर टेंट में नुकसान किया है।

पहरावर की जमीन के विवाद को लेकर नवीन जयहिंद शुक्रवार को अदालत में पेश हुए। अदालत में जयहिंद व नगर निगम की तरफ से अपना-अपना पक्ष रखा। निगम का कहना है कि जमीन उसकी मलकियत है। ऐसे में उसकी अनुमति के बगैर कार्यक्रम नहीं किया जा सकता। जबकि जयहिंद का कहना है कि निगम जमीन गौड़ ब्राह्मण संस्था को दे चुका है। ऐसे में जमीन समाज की है। अदालत ने दोनों पक्षों से चार बजे तक कागजात अदालत में देने के लिए कहा है।

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करेSubscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal