एसडीएम दीपक बाबूलाल करवा ने बलियाली में सुनी लोगों की समस्याएं

201
SHARE
बवानीखेड़ा।  
सरकार के निर्देशानुसार सामुदायिक पुलिसिंग और हरियाणा उदय के तहत बुधवार को भिवानी उपमंडल के गांव बलियाली स्थित बाबा बंदा सिंह बहादुर गुरूद्वारा में आउटरीच कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में एसडीएम दीपक बाबू लाल करवा ने ग्रामीणों की समस्याएं सुनी। उन्होंने समस्याओं के समाधान के लिए मौके पर मौजूद संबंधित विभागों के अधिकारियों को जरूरी निर्देश दिए। इस दौरान विभिन्न विभागों द्वारा स्टॉल लगाकर नागरिकों की परिवार पहचान पत्र, राशन कार्ड व पेंशन संबंधी त्रुटियों को दुरूस्त किया गया। स्वास्थ्य विभाग द्वारा लोगों के चिरायु कार्ड बनाए गए और लोगों का स्वास्थ्य चैकअप भी किया गया। एसडीएम ने ग्रामीणों से पर्यावरण संरक्षण के लिए अधिक से अधिक पौधारोपण का आहवान किया।
   कार्यक्रम में एसडीएम करवा ने कहा कि सरकार की सभी कल्याणकारी योजनाएं परिवार पहचान -पत्र के साथ जोड़ी जा चुकी हैं। नागरिक अपना परिवार पहचान -पत्र बनवाएं ताकि किसी भी योजना के लाभ से वंचित न रहें। उन्होंने कहा कि पेंशन व छात्रवृति आदि भी परिवार पहचान पत्र के साथ में जोड़ी जा चुकी हैं। ऐसे में सभी का पीपीपी होना जरूरी है। परिवार पहचान पत्र के आधार पर योग्यता पूरी होते ही घर बैठे ही पेंशन सुविधा का लाभ मिलना शुरू हो जाता है। इसी तरह से आयुष्मान व निरोगी हरियाणा आदि स्वास्थ्य योजनाओं का लाभ भी पीपीपी के आधार पर मिलता है। उन्होंने ग्रामीणों से कहा कि वे गांव के विकास में अपना सहयोग दें। पात्र व्यक्ति सरकार की कल्णकारी योजनाओं का लाभ उठाएं। जिला प्रशासन का हरसंभव प्रयास है कि लोगों को बिजली, पानी आदि मूलभूत जरूरतों के लिए परेशानी का सामना नहीं करना पड़े। इसके लिए अधिकारियों को जरूरी निर्देश दिए जा चुके हैं।
उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार के निर्देशानुसार उपायुक्त नरेश नरवाल के मार्गदर्शन में जिला में हरियाणा उदय के तहत आउटरीच कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं। इन कार्यक्रमों के माध्यम से जहां एक तरफ लोगों की समस्याओं का मौके पर ही समाधान किया जाता है, वहीं दूसरी तरफ नागरिकों को योजनाओं की जानकारी भी दी जाती है।
एसडीएम ने ग्रामीणों से पर्यावरण संरक्षण का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि मानसून सीजन में अधिक से अधिक पौधे लगाएं ताकि पर्यावरण का संरक्षण हो सके। एसडीएम ने ग्रामीणों से कहा कि वे तालाबों में गंदा पानी न जाने दें। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि अमृत सरोवर में शामिल किए गए तालाबों का सही ढंग से सौंदर्यकरण करें।
एसडीएम ने आउटरीच कार्यक्रम के दौरान करीबन 100 समस्याएं सुनीं। उन्होंने राशन कार्ड में नाम और आय ठीक करवाने, मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल पर पंजीकरण ठीक करवाने बारे, गली निर्माण, मकान निर्माण राशि दिलवाने बारे, अवैध निर्माण हटवाने, परिवार पहचान पत्र, पेंशन, लाल डोरा के तहत आने वाले प्लाट की रजिस्ट्री करवाने बारे, पेयजल, बिजली की पुरानी तारें बदले जाने, जलघर में फिल्टर लगाने, बीपीएल राशन को लेकर, कमाना जोहड़ से पानी की निकासी, बेसहारा पशुओं को गौशाला या नंदीशाला में छुडवाने आदि समस्याएं सुनी।  उन्होंने समस्याओं के समाधान के लिए मौके पर मौजूद अधिकारियों को जरूरी निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि अधिकारी निर्धारित समय में समस्याओं का समाधान करें। उन्होंने ग्रामीणों को आश्वासन दिया कि जिला स्तर पर पूरी होने वाली मांगों को जल्द से जल्द पूरा करवाया जाएगा और जो मांगे सरकार के लेवल की होंगी, उनको चण्डीगढ़ मुख्यालय में सरकार के पास भेजा जाएगा।
अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करेSubscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal