हरियाणा विधानसभा बजट सत्र का दूसरा चरण:अभय चौटाला की स्पीकर से तीखी बहस

127
SHARE

चंडीगढ़।

हरियाणा विधानसभा बजट सत्र के दूसरे चरण के दूसरे दिन की कार्यवाही प्रश्नकाल के साथ शुरू हो गई। कांग्रेसी विधायक कुलदीप वत्स ने खेतों में बारिश का पानी भर जाने से फसलों को हुए नुकसान का मुद्दा उठाया। वत्स ने सवाल किया कि प्रभावित किसानों को कब तक सरकार मुआवजा राशि आवंटित करेगी। विपक्षी दल के विधायक का जवाब कृषि मंत्री जेपी दलाल ने दिया।

  • असीम गोयल ने कहा कि पाकिस्तान से विभाजन के बाद यहां आने वाले शरणार्थियों को आज भी रिफ्यूजी जैसे शब्दों का प्रयोग किया जाता है। यह बंद होना चाहिए। इस मामले में सरकार को कार्रवाई करनी चाहिए। अंबाला जिले के अंदर सिख समाज से संबंधित बड़ा महत्वपूर्ण स्थान है। यहां गुरू गोविंद सिंह की ननिहाल है। राज्य में गोविंद सर्किट बनाया जाए, यह एक सच्ची श्रद्धाजलि बहादुर समाज को होगी।
  • विधायक अभि सिंह यादव ने सरकार से सवाल किया कि माइनिंग डिपार्टमेंट ने ऑक्शन के लिए एक नोटिफिकेशन जारी किया है। इस नोटिफिकेशन में डिपार्टमेंट ने किसानों की एग्रीकल्चर भूमि को भी शामिल कर लिया है। उन्होंने सरकार से मांग की कि 24 मार्च को होने वाले ऑक्शन की प्रक्रिया को रोक दिया जाए। उन्होंने बताया कि इस आशय का एक पत्र मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्‌टर को भी भेजा गया है।
  • सदन में शून्यकाल के दौरान सरपंचों की लिमिट बढ़ाने का मुद्दा गूंजा। जुलाना विधायक अमरजीत ढांडा ने सरकार से अनुरोध किया कि सरपंचों की लिमिट 5 लाख से बढ़ाकर 10 लाख की जाए। सरपंच अपनी मांगों को लेकर सड़कों पर है।
  • शून्यकाल के दौरान कालका से कांग्रेस विधायक प्रदीप चौधरी ने आवारा पशुओं के द्वारा पांच साल की बच्ची की मौत का मुद्दा सदन में उठाया। इसके अलावा उन्होंने नवरात्र के दौरान होने वाली वाहनों की पार्किंग की समस्या को भी उठाया। इसके अलावा भी उन्होंने मोरनी की खराब सड़कों को लेकर भी सदन में उठाया।
  • शून्यकाल से पहले स्पीकर ने बताया कि हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज अस्वस्थ्य होने के कारण सदन में नहीं आए हैं। उनके अलावा राज्य मंत्री संदीप सिंह, विधायक नैना चौटाला, सुधीर सिंगला और गोपाल कांडा ने सदन में नहीं आने की पूर्व सूचना दी है।
  • कांग्रेसी विधायक शमशेर गोगी के सवाल के साथ ही प्रश्न काल समाप्त करने की स्पीकर ज्ञानचंद गुप्ता ने घोषणा की। इस पर कांग्रेसी विधायक नीरज शर्मा ने सवाल खड़े किए। उन्होंने कहा स्पीकर से कहा कि आपकी और अभय चौटाला की हुई बहस के दौरान के समय को काटकर मेरा सवाल लगाया जाए।
  • कांग्रेसी विधायक आफताब अहमद ने परिवार पहचान पत्र (PPP) बेरिफिकेशन के बाद 8 लाख 41 हजार को राशन बंद हो जाने का मुद्दा उठाया। उन्होंने यह भी सवाल किया कि गुलाबी राशन कार्ड बनाए जाने की क्या गाइड लाइन सरकार की ओर से निर्धारित की गई है। डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने जवाब देते हुए कहा कि सरकार ने बेरिफिकेशन के बाद 12 लाख नए राशन कार्ड बनाए गए हैं, उन कार्डों को कैंसिल किया गया है जो सरकार के द्वारा निर्धारित आय से बाहर थे।
  • डिप्टी सीएम ने गुलाबी राशन कार्ड बनाए जाने के लिए कहा कि केंद्र सरकार की ओर से हरियाणा को 3 लाख 2 हजार परिवारों के ही राशन कार्ड बनाए जाने की अनुमति दी है।
  • प्रश्नकाल के दौरान इनेलो विधायक अभय चौटाला ने डार्क जोन का मुद्दा उठाया। उन्होंने सवाल किया कि गिरते भू जल स्तर के कारण कई गांवों में ट्यूबवेल का कनेक्शन नहीं दिया जा रहा है। इस सवाल में एक और सवाल जोड़ने पर स्पीकर ने उन्हें टोका, जिसको लेकर दोनों के बीच तीखी बहस शुरू हो गई। इसके बाद स्पीकर ने उन्हें नेम कर सदन से बाहर कर दिया। इस दौरान सदन में स्पीकर के कहने पर मार्शल तक बुलाए गए।
  • सत्ता पक्ष के विधायक असीम गोयल ने होटल-मैरिज पैलेस टैक्स का मुद्दा उठाया। इसके अलावा असीम गोयल ने और भी स्थानीय मुद्दों को सदन में रखा। उनके सवाल का जवाब देते हुए स्थानीय निकाय मंत्री कमल गुप्ता ने उनके इस सवाल का जवाब दिया।
  • सदन में कैथल जिले में गर्ल्स कॉलेज खोले जाने की मांग रखी गई। विधायक लीलाराम ने इसके अलावा और भी स्थानीय मुद्दे उठाए। विधायक के सवाल का जवाब शिक्षा मंत्री मूलचंद शर्मा ने देते हुए कहा कि विभाग इस पर काम कर रहा है। हालांकि इस विषय का प्रस्ताव अभी विभाग को नहीं मिला है। मिलते ही काम किया जाएगा।
  • हरियाणा विधानसभा में बजट सत्र के दूसरे चरण के दूसरे दिन अतिथि शिक्षकों का मुद्दा विधायक धर्म सिंह छौक्कर ने उठाया। इसका जवाब देते हुए मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने खट्‌टर ने बताया कि HPSC का अपना पाठ्यक्रम है, सरकार का इसमें कोई इंटरफेयर नहीं है।

शुक्रवार को 11 बजे CM मनोहर लाल के द्वारा शोक प्रस्ताव पढ़ने के बाद सदन की कार्यवाही शुरू हुई थी। इसके बाद नेता प्रतिपक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्‌डा ने भी शोक प्रस्ताव पढ़े थे। दोनों नेताओं ने सदन में वीर सैनिकों को श्रद्धांजलि दी। शोक प्रस्ताव में सांसद रमेश कौशिक, विधायक के करीबियों को श्रद्धांजलि दी गई। पूर्व सीएम ने भूपेंद्र चौधरी के निधन पर शोक प्रस्ताव पढ़ा। सदन में अभिनेता सतीश कौशिक के निधन पर भी शोक प्रस्ताव रखा गया था।

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करेSubscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal