शिक्षा के बल पर विश्व में विद्यार्थी दिखा रहे हैं अपना हुँनर- रणजीत सिंह चौटाला

93
SHARE

भिवानी।

वैश्य शिक्षण संस्थान के विद्यार्थी केवल हिन्दुस्तान में ही नहीं बल्कि विश्व स्तर पर शिक्षा के बल पर अपनी प्रतिभा का लोहा मनवा रहें हैं और यह केवल आज से ही नहीं बल्कि शिक्षा के क्षेत्र में पूर्व मुख्यमंत्री बनारसी दास गुप्त, शिक्षाविद् भगीरथमल, गौरी शंकर बजाज के समय काल से इस प्रकार का इतिहास रचा जा रहा है जिन्होंने समय-समय पर शिक्षा पर बल दिया और संस्था से जुड़े इन्हीं शिक्षाविदों के अथक प्रयास को वर्तमान में वैश्य शिक्षण संस्थान के सभी पदाधिकारी आगे लेकर चल रहे हैं। उपरोक्त विचार आज वैश्य इंटरनेशनल स्कूल के उद्घाटन समारोह के उपरांत दिनोट गेट स्थित टिबड़ेवाल सभागार में उपस्थित पदाधिकारियों, शिक्षकों, अभिभावकों एवं विद्यार्थियों के समक्ष बोलते हुए हरियाणा के बिजली एवं जेल मंत्री चौ0 रणजीत सिंह चौटाला ने व्यक्त किए। उन्होंने कहा कि शिक्षा के बल पर विद्यार्थी दुनिया में अपनी प्रतिभा दिखा रहें है।

उन्होंने कहा कि छोटी काशी के नाम से प्रसिद्ध भिवानी शहर में वैश्य इंटरनेशनल स्कूल के नाम से शिक्षा जगत में एक पौधा और तैयार हो गया है यह भिवानी शहर के लिए बड़ी सौगात है। उन्होंने कहा कि शिक्षा के बल पर केवल हमें शिक्षित होने का प्रमाण-पत्र ही नहीं मिलता बल्कि जाति और धर्म के भेदभाव को भी हम दूर रख सकते हैं और शिक्षा के बल पर ही हम देश को दुनिया में विकसित देश के रूप में खड़ा कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि वर्तमान में शिक्षा को आधुनिक तकनीक के सहयोग से और अधिक आगे ले जाया जा सकता है। सरकार के द्वारा भी नई शिक्षा नीति लागू कर शिक्षा जगत में और अधिक सुधार लाने का प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि दिन प्रतिदिन शिक्षा के मायने बदलते जा रहे है दुनिया छोटी हो रही है और शिक्षा के बल पर लोग आगे बढ़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि वैश्य समाज ने भिवानी में 1908 में पहला कन्या विद्यालय खोला था जो आज भी बेटियों को शिक्षा प्रदान कर रहा है।
समारोह के अध्यक्ष एडवोकेट शिवरतन गुप्ता ने बिजली मंत्री रणजीत सिंह चौटाला के व्यक्तित्व पर प्रकाश डालते हुए कहा कि वैश्य इंटरनेशनल स्कूल का उद्घाटन एक ऐसे महान व्यक्ति के कर-कमलों से हुआ है जिनका शिक्षा के प्रति काफी लगाव है। उन्होंने कहा कि वैश्य इंटरनेशल स्कूल के द्वारा उच्च कोटि की शिक्षा प्रदान की जाएगी जिसके लिए सभी प्रकार की तैयारियाँ की जा रही है। यह विद्यालय उन विद्यार्थियों का पलायन रोकेगा जो अन्य जिलों में शिक्षा ग्रहण करने जाते हैं। वहीं उन्होंने बिजली मंत्री द्वारा 5 लाख रूपये का अनुदान देने की घोषणा आभार जताया। इस अवसर पर महासचिव पवन कुमार बुवानीवाला, समाज सेवी बृजलाल सर्राफ ट्रस्टी, विजय किशन धारेडू, दिल्ली से पहुँचे सुरेश गुप्ता ने भी मंत्री का आभार जताया। पवन बुवानीवाला ने कहा कि स्व0 चौ0 देवीलाल परिवार से उनका काफी समय पहले जुड़ाव रहा है। उन्होंने कहा कि स्व0 चौ0 देवीलाल भी शिक्षा को समर्पित रहे हैं।

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करेSubscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal