चरखी दादरी में टीचर ने की खुदकुशी

1087
SHARE

भिवानी।

निजी स्कूल के एक अध्यापक द्वारा ज़हर खाकर सुसाइड करने का सनसनीख़ेज़ मामला सामने आया है। मृतक चरखी दादरी के निमड़ बडेसरा का था, जिसे उपचार के लिए भिवानी लाया गया, पर बताया न जा सका। मृतक के सुसाइड नोट के आधार पर पुलिस ने 6 लोगों के खिलाफ पर्चा दर्ज कर जाँच शुरू कर दी है।

जानकारी के मुताबिक़ चरखी दाररी जिला के बाढड़ा क्षेत्र के निमड़ बडेसरा गाँव निवासी 54 वर्षीय सतीश एक निजी स्कूल में अध्यापक था। जिसने स्कूल में ज़हर खा लिया। उसे इलाज के लिए भिवानी अस्पताल लाया गया, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। मृतक के पास एक सुसाइड नोट मिला है, जिसमें स्कूल संचालक समेत अपने 6 परिजनों व एक रिश्तेदार को अपनी मौत का ज़िम्मेवार ठहराया है। साथ ही लिखा है कि पुलिस मेरे बेटा निखिल व बेटी निकिता को न्याय दिलाए।

मृतक सतीश के चचेरे भाई प्रकाश ने बताया कि सतीश 27 साल से इसी स्कूल में पढ़ाता था। जो स्कूल में पार्टनर भी था। पर उसे पार्टनरशिप व पे को लेकर तंग किया गया। वहीं मृतक की बेटी निकिता ने कहा कि मेरा पिता स्कूल में आधा हिस्सेदार था। जिसे ना पे दी गई ना हिस्सेदारी के पैसे। पीड़ित बेटी ने पुलिस से सुसाइड नोट के हिसाब से न्याय की माँग की है।

मृतक सतीश के सुसाइड नोट में स्कूल संचालक राजेन्द्र पर डेढ़ लाख रूपये वेतन के व क़रीब 15 लाख रुपये उधार के ना देने का आरोप लगाया है। वहीं अपने एक भाई सत्यवीर,भाभी बिमला,भतीजे नरेन्द्र व उसकी पत्नी सोनिका पर ज़मीनी विवाद में झगड़ा करने का दोषी बताया है।  वहीं मामले की जाँच कर रहे सब इंस्पेक्टर संदीप कुमार ने बताया कि निमड़ गाँव के मृतक सतीश के सुसाइड नोट के आधार पर व परिजनों के बयान पर मामला दर्ज कर लिया है। उन्होंने कहा कि आरोपियों की गिरफ़्तारी के लिए टीम गठित कर दी है।

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करेSubscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal