गीता जैसे ग्रंथ हमारी समृद्ध संस्कृति से जुड़ी अमूल्य धरोहर हैं: विधायक बिशम्बर वाल्मीकि

137
SHARE

भिवानी।

किरोड़ीमल पार्क में आयोजित आजादी के अमृत महोत्सव की थीम पर आधारित तीन दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय गीता महोत्सव के अंतिम दिन बवानीखेड़ा के विधायक बिशम्बर वाल्मीकि बतौर मुख्य अतिथि यज्ञमान के रूप में शामिल हुए। बवानीखेड़ा के विधायक बिशम्बर वाल्मीकि ने सबसे पहले गीता हवन में पूर्णाहूती दी और श्रीमदभगवत गीता के समक्ष दीप प्रज्ज्वलित किया और गीता आरती की। उन्होंने महोत्सव में सरकार की विभिन्न जनहितकारी योजनाओं को लगाई गई प्रदर्शनी में स्टाल का अवलोकन भी किया। पंडित प्रदीप भारद्वाज, पंडित रामबिलास शर्मा व पंडित पवन पुजारी ने हवन यज्ञ पूर्ण करवाया। अपने सम्बोधन में विधायक बिशम्बर वाल्मीकि ने कहा कि गीता एक ऐसा मार्गदर्शक है जिसका अध्ययन कर मनुष्य बड़ी से बड़ी विपत्ति को सहजता से सहन कर सकता है और इसके स्मरण मात्र से ही व्यक्ति जीवन-मृत्यु के बंधन से मुक्त हो जाता है। गीता जैसे ग्रंथ हमारी समृद्ध संस्कृति से जुड़ी अमूल्य धरोहर हैं। विधायक ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहरलाल गीता का कर्म संदेश ही लेकर कार्य कर रहे हैं और भ्रष्टाचार, बुराईयों को खत्म कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी विश्व शांति के लिए श्रीमद्भागवत गीता का देश ही नहीं अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रचार- प्रसार के माध्यम से सन्देश भेजने का कार्य कर रहे हैं। इसी कड़ी में मुख्यमंत्री ने जिला व प्रदेश स्तर पर गीता महोत्सव कार्यक्रम करवाने का निर्णय लिया है। विधायक ने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहरलाल ने गीता के बताए मार्ग पर चलते हुए प्रदेश का स्वरूप बदलने का काम किया है। प्रदेश सरकार सबका साथ-सबका विकास पर काम कर रही है। मुख्य अतिथि ने कहा कि गीता जीवन जीने की कला व मानव को संपूर्णता की ओर ले जाने की मार्गदर्शिका है। गीता के एक-एक श्लोक में जीवन मूल्य, अलौकिक रहस्य, जीवन शैली, सद्व्यवहार और कर्म करने का उल्लेख है। हर व्यक्ति को गीता को अपने जीवन से आत्मसात करना चाहिए।उन्होंने कहा कि गीता एक ऐसा मार्गदर्शक है जिसका अध्ययन कर मनुष्य बड़ी से बड़ी विपत्ति को सहजता से सहन कर सकता है और इसके स्मरण मात्र से ही व्यक्ति जीवन-मृत्यु के बंधन से मुक्त हो जाता है। गीता जैसे ग्रंथ हमारी समृद्ध संस्कृति से जुड़ी अमूल्य धरोहर हैं। इस अवसर पर एसडीएम संदीप अग्रवाल, सीटीएम हरबीर, जिला परिषद सीईओ मनोज दलाल, जिला शिक्षा अधिकारी रामोतार शर्मा, मुरलीधर शास्त्री, स्वामी राजनाथ, स्वामी मुकन्द स्वरूप के अलावा विधायक के साथ आए शकुंतला कौशिक, सरपंच विनोद, सुनील डावर, संजय, जयवीर, सचिन सरदाना, उमेश भारद्वाज सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करेSubscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal