पीएम की सोच को आगे बढ़ा रहा दि इंस्टीट्यूट ऑफ कोस्ट अकाऊंटेंटस संस्थान : जेपी दलाल

68
SHARE

भिवानी:

प्रदेश के कृषि एवं पशुपालन मंत्री जयप्रकाश दलाल ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का उद्देश्य प्रदेश के युवाओं को रोजगार के अवसर मुहैया करवाकर समाज व राष्ट्र की तरक्की की दिशा में सकारात्मक कदम बढ़ाना है। दि इंस्टीट्यूट ऑफ कोस्ट अकाऊंटेंटस ऑफ इंडिया जैसे संस्थान भी प्रधानमंत्री की रोजगारपरक सोच को आगे बढ़ाने का कार्य कर रहे है। ऐसे में इस प्रकार के संस्थान की शहर को बहुत आवश्यकता थी, जो कि आज पूरी हुई है। कृषि मंत्री शनिवार को गांव प्रेमनगर स्थित चौ. बंसीलाल विश्वविद्यालय में दि इंस्टीट्यूट ऑफ कोस्ट अकाऊंटेंटस ऑफ इंडिया की भिवानी शाखा के शुभारंभ पर आयोजित कार्यक्रम को बतौर मुख्यअतिथि संबोधित कर रहे थे। इस मौके पर बतौर विशिष्ट अतिथि डीन सुनीता भरतवाल, भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष ठाकुर विक्रम सिंह, पंचपायत समिति चेयरमैन सीताराम शर्मा ने शिरकत की। कार्यक्रम की अध्यक्षता सीबीएलयू के कुलपति प्रो. आरके मित्तल ने की।
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कृषि एवं पशुपालन मंत्री जयप्रकाश दलाल ने कहा कि आज के समय में दि इंस्टीट्यूट ऑफ कोस्ट अकाऊंटेंटस ऑफ इंडिया जैसे संस्थानों की विशेष जरूरत है। उन्होंने बताया कि इस प्रकार के संस्थान युवाओं में व्यवासी सोच को बढ़ाने में कारगर साबित होते है, जो कि ना केवल उनके भविष्य, बल्कि संस्थान के लिए भी फायदेमंद होते है। दलाल ने कहा कि रूपया बचाना भी रूपया कमाने के ही समान है, तथा दि इंस्टीट्यूट ऑफ कोस्ट अकाऊंटेंटस ऑफ इंडिया रूपये बचाने की कला में ही निखार लाने के साथ-साथ संसाधनों का उत्तम उपयोग सिखाता है।
इस मौके पर दि इंस्टीट्यूट ऑफ कोस्ट अकाऊंटेंटस ऑफ इंडिया के उत्तरी जोन के सैंट्रेल काऊंसिल सदस्य व फॉर्मर प्रिंसिपल एडवाईजर इन मिनिस्ट्री ऑफ फाईनेंस डिपार्टमेंट ऑफ एक्सपैंडीचर मनोज कुमार आनंद ने कहा कि दि इंस्टीट्यूट ऑफ कोस्ट अकाऊंटेंटस ऑफ इंडिया की शाखा भिवानी में खुलने से यहां ना केवल शिक्षा का स्तर बढ़ेगा, बल्कि रोजगार के साधन भी उपलब्ध होंगे। उन्होंने काह कि इस इंस्टीट्यूट का मुख्य उद्देश्य युवाओं को लागत लेखाकार (कोस्ट अकाऊटेंट) का प्रशिक्षण उन्हे रोजगार की राह पर अग्रसर बनाकर उनका भविष्य स्वर्णिम बनाना है। उन्होंने बताया कि इंस्टीट्यूट ऑफ कोस्ट अकाऊंटेंटस ऑफ इंडिया की देश भर में 116 तथा अन्य देशों में 11 शाखाएं है, जो कि चार जोनों में बंटी हुई हैं। उन्होंने बताया कि यह इंस्टीट्यूट भारत सरकार से मान्यता प्राप्त है। उन्होंने बताया कि इस इंस्टीट्यूट की भिवानी में परीक्षा केंद्र है तथा देश भर में 121 परीक्षा केंद्र है।
इस मौके पर नवनीत कुमार जैन, रवि कुमार साहनी, हरकेश तारा, राकेश यादव, संतोष पंथ, मनीष कांडपाल, हरेंद्र पारिक चेयरमैन जयपुर शाखा, अमन कालरा चंडीगढ़ शाखा का कार्यक्रम के आयोजन में विशेष सहयोग रहा। कार्यक्रम में पहुंचने वाले सभी अतिथियों का भिवानी शाखा के चेयरमैन विजय कुमार शर्मा, वाईस चेयरमैन संजय कुमार आर्य, सचिव संदीप शर्मा, कोषाध्यक्ष प्रवीण दत्त शर्मा व सदस्य देवेंद्र कुमार रापडिय़ा, मुकेश शर्मा, दीपक कुमार मेहता, रणदीप शर्मा, मंंजूल राय, दीपक वत्स ने स्वागत किया।

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करेSubscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal