इस बार गीता जयंती महोत्सव पर बनेगा एक ओर विश्व रिकॉर्ड-ज्ञानानंद महाराज

85
SHARE

भिवानी :

हर वर्ष गीता जयंती महोत्सव धूमधाम से मनाया जाता है, लेकिन इस बार ऐसा पहली बार हो रहा है कि दुनिया भर में एक ही समय पर गीता के श्लोक एक साथ गूंजेंगे। जीयो गीता के सौजन्य से 23 दिसंबर को गीता जयंती महोत्सव के उपलक्ष्य में एक मिनट-एक साथ गीता पाठ का वैश्विक अभियान शुरू किया गया है। जिसके तहत गीता जयंती महोत्सव पर विश्व भर में एक साथ गीता के श£ोक गूंजेंगे। इस अभियान के तहत वीरवार को स्वामी ज्ञानानंद महाराज स्थानीय राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में पहुंचे तथा विभिन्न धर्मिक एवं सामाजिक संस्थाओं से आह्वान किया कि इस कार्यक्रम को सफल बनाने में अपनी भूमिका निभाएं।
कार्यक्रम में बतौर मुख्यअतिथि हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड की सचिव ज्योति मित्तल तथा विशिष्ट अतिथि भिवानी के खंड शिक्षा अधिकारी डा. अनिल गौड ने शिरकत की तथा अध्यक्षता जिला शिक्षा अधिकारी नरेश मेहता ने की। कार्यक्रम में सान्निध्य महंत चरणदास महारा जव महंत वेदनाथ महाराज का रहा। इस मौके पर विभिन्न सरकारी व गैर सरकारी विद्यालयों के अध्यापकगण व विद्यार्थी मौजूद रहे। उपस्थित सभी को स्वामी ज्ञानानंद महाराज ने एक मिनट-एक साथ गीता पाठ अभियान को सफल बनाने की शपथ भी दिलाई। कार्यक्रम के दौरान स्कूली बच्चों ने गीता का पाठ भी किया, जिसे स्वामी ज्ञानानंद महाराज ने सुना तथा बच्चों की जमकर प्रशंसा की।
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए स्वामी ज्ञानानंद महाराज ने कहा कि पहले भी गीता पाठ का सफल बनाने में छोटी कांशी भिवानी का महत्वपूर्ण योगदान रहा था तथा उन्हे विश्वास है कि अब भी भिवानी की धर्मप्रिय जनता इस अभियान को ओर भी बड़े स्तर पर सफल बनाएंगी। स्वामी ज्ञानानंद महाराज ने कहा कि पूरे विश्व में पवित्र ग्रंथ गीता की एक मात्र ही ऐसा ग्रंथ है जो जीवन जीने की राह दिखाता है और दुनिया की तमाम समस्याओं का निदान करने का मार्ग प्रशस्त करता है। इस ग्रंथ का एक-एक श्लोक मनुष्य को संस्कारवान बनाता है। पवित्र ग्रंथ गीता के उपदेश उसी समय में ही सार्थक नहीं थे, अपितू आज के युग में भी पूरी तरह प्रांसगिक हैं। विश्व के लिए गीता के वैश्विक सिद्धांत समाज को जीवन जीने का सार बताते हैं। इस ग्रंथ की महिमा अपरमपार हैं।
इस मौके पर कार्यक्रम के संयोजक एवं गीता पाठ के नोडल ऑफिसर डा. मुरलीधर शास्त्री ने सभी सामाजिक संगठनों एवं संतों का आभार व्यक्त किया तथा एक मिनट-एक साथ गीता पाठ अभियान को सफल बनाने का आश्वासन दिया। उन्होंने कहा कि गीता जाति व धर्म से ऊपर उठकर हमें जीवन जीने की कला सिखाती है। ऐसे में प्रत्येक जन को गीता के प्रचार-प्रसार के अभियान को गति देने में अपनी भूमिका निभानी चाहिए। इस अवसर पर प्रो. विक्रम यादव, भारत विकास परिषद शाखा शहीद मदन लाल ढ़ींगड़ा के प्रांतीय संगठन सचिव अशोक कुमार शर्मा, पूर्व जिला शिक्षा अधिकारी सुरेश शर्मा, बालकृष्ण, कमल, विशंबर अरोड़ा, विद्यालय प्राचार्या सविता घनघस, ओपी नंदवानी, बालकृष्ण, चंद्र डेयरी, विनोद छाबड़ा, डा. विनोद सहित विभिन्न धार्मिक एवं सामाजिक संस्थाओं के प्रतिनिधियों के अलावा, सरकारी व गैर सरकारी स्कूलों के प्राचार्य, अध्यापक व विद्यार्थी मौजूद रहे।

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करेSubscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal