तीन माह के प्यार में : उजाड़ा 15 साल पहले बसा परिवार

92
SHARE
चरखी दादरी।

हरियाणा के चरखी दादरी में डुडीवाला किशनपुरा निवासी एक सैनिक की गत तीन फरवरी की रात संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौत की गुत्थी पूरी तरह सुलझ गई है। एक सप्ताह पहले आई पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हत्या की बात सामने आने पर बाढड़ा थाना पुलिस ने गहनता से जांच की और पुलिस की शक की सुई मृतक की पत्नी पर घूम गई। 18 फरवरी को पुलिस ने मृतक की पत्नी और उसके प्रेमी को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ के दौरान खुलासा हुआ कि पत्नी और प्रेमी के अवैध रिश्ते का पता चलने पर उन्होंने हत्या की योजना बनाई थी, जिसे अंजाम देने में वो सफल रहे।

बाढड़ा थाना प्रभारी रामअवतार ने बताया कि डुडीवाला किशनुपरा निवासी प्रवीन (35) सेना में हवलदार था। इस बार वो छुट्टी आया तो उसे उसकी पत्नी मनीषा और परिवार में ही मनीषा का देवर लगने वाले दीपक उर्फ विक्की के नाजायज रिश्ते का पता लग गया। इस पर मनीषा ने अपने प्रेमी दीपक को इस बात की जानकारी दी। जिस पर दोनों मिलकर सेना में हवलदार प्रवीन को रास्ते से हटाने की योजना बनाई।

थाना प्रभारी ने बताया कि गत तीन फरवरी की रात परिवार के सभी सदस्य खाना खाकर सो गए और मनीषा ने प्रवीन के खाने में नींद की गोलियां मिला दीं। प्रवीन के गहरी नींद में सोने के बाद उसने दीपक को घर बुलाया और इसके बाद उन्होंने प्रवीन के मुंह और नाक को तोलिये से दबाए रखा।

कुछ देर बाद ही प्रवीन ने दम तोड़ दिया और इसके बाद ही उन्होंने उसे छोड़ा। थाना प्रभारी रामअवतार ने बताया कि दोनों आरोपियों को गत 18 फरवरी को पुलिस ने गिरफ्तार किया और इसके बाद कोर्ट में पेश कर उन्हें पूछताछ के लिए दो दिन के रिमांड पर लिया। रिमांड अवधि के दौरान दोनों आरोपियों ने हत्याकांड कबूल लिया।

आरोपी महिला से आठ साल छोटा है प्रेमी
थाना प्रभारी रामअवतार ने बताया कि मृतक की पत्नी एवं मामले की आरोपी मनीषा की उम्र करीब 35 साल है जबकि दीपक उनके परिवार का ही है और आरोपी महिला का देवर लगता है। दीपक उर्फ विक्की की उम्र करीब 24 साल है। दीपक अविवाहित है।

तीन माह के प्यार में मनीषा ने उजाड़ दिया 15 साल पहले बसा परिवार
डुडीवाला किशनपुरा निवासी सैनिक प्रवीन की हत्या का राज खुलने के साथ कई चौंकाने वाले खुलासे हुए हैं। हत्याकांड को लेकर गिरफ्तार की गई मृतक की पत्नी मनीषा और उसके प्रेमी दीपक ने पुलिस के सामने जो रोल खोले हैं, उसके मुताबिक दोनों के बीच नाजायज रिश्ता पिछले करीब तीन माह से था। वहीं, प्रवीन और मनीषा की शादी 15 साल पहले हुई थी। ऐसे में मनीषा ने तीन माह के प्यार के लिए 15 साल पहले बसा अपना परिवार उजाड़ लिया।

चार फरवरी को छुट्टी बिताकर प्रवीन को लौटना था वापस
पोस्टमार्टम के दौरान मृतक के भाई ओमप्रकाश ने पुलिस बयान में बताया था कि प्रवीन को चार फरवरी को छुट्टी काटकर ड्यूटी पर लौटना था। प्रवीन की तैनाती मेरठ में थी और ड्यूटी पर लौटने से एक दिन पहले ही उसकी पत्नी मनीषा ने प्रेमी के साथ मिलकर उसे मौत के घाट उतार दिया। आरोपी दीपक पहले बाहर रहता था और कुछ समय पहले ही गांव लौटा है।

विडंबना : पिता का उठा साया, दुलार के लिए मां भी नहीं दोनों बच्चों के पास
हत्याकांड की आरोपी मनीषा की एक गलती से उसके दोनों बच्चे जो पीड़ा झेलेंगे, उसका अंदाजा लगाना भी मुश्किल है। दस वर्षीय बेटे और 12 वर्षीय बेटी से पिता का साया उनकी मां ने ही छीन लिया, जो अब सलाखों के पीछे पहुंच गई है। मनीषा की एक गलती ने न केवल उसका हंसता-खेलता परिवार उजाड़ दिया, बल्कि उसे अपने बच्चों से भी दूर कर दिया।

सैनिक प्रवीन की मौत मामले को हमने सुलझा लिया है। मृतक प्रवीन की पत्नी ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर मुंह और नाक को तोलिये से दबाकर हत्या की थी। दोनों आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर पूछताछ की, जिसमें उन्होंने ये खुलासा किया। प्रवीन हत्याकांड की आरोपी मनीषा और दीपक में प्रेम-प्रसंग करीब तीन माह पहले ही शुरू हुआ था जबकि मनीषा की प्रवीन से शादी 15 साल पहले हुई थी। मृतक प्रवीन के दो बच्चे हैं। -रामअवतार, बाढड़ा थाना प्रभारी

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करेSubscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal