जहरीली गैस का रिसाव, चली गई 6 की जान, 22 की हालत गंभीर

27
SHARE

सूरत: सूरत जिले में बृहस्पतिवार को एक गैर रिसाव की एक बड़ी घटना हो गई। फैक्टरी के पास खड़े रसायन से भरे टैंकर से कथित तौर पर निकले जहरीले धुएं की चपेट में आने से कारखाने के छह मजदूरों की मौत हो गई और करीब 22 अन्य गंभीर रूप से घायल हो गए, जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। सूरत नगर निगम (एसएमसी) के प्रभारी मुख्य दमकल अधिकारी बसंत पारीक ने बताया कि हादसे के समय सभी मजदूर सचिन औद्योगिक क्षेत्र स्थित रंगाई कारखाने में सो रहे थे। कांग्रेस पार्टी के नेता राहुल गांधी ने घटना पर दुख जताते हुए इसकी पूरी जांच की मांग की है। पारीक ने बताया कि दमकल विभाग को सुबह करीब चार बजकर 25 मिनट पर घटना की सूचना मिली। जहरीला धुआं सांस लेते समय शरीर में जाने से करीब 25-26 मजदूर बेहोश हो गए थे, यह धुआं कारखाने के पास खड़े एक टैंकर से निकल रहा था। मजदूरों को ‘न्यू सिविल हॉस्पिटल’ में भर्ती कराया गया है। सिविल अस्पताल के रेजिडेंट चिकित्सा अधिकारी ओंकार चौधरी ने कहा, ‘‘छह मजदूरों की मौत हो गई है, जबकि 22 अन्य का इलाज चल रहा है।’’