शार्ट-सर्किट से प्लास्टिक की दो फैक्ट्रियां जलकर राख, 10 घंटों तक जूझती रही फायर ब्रिगेड की आधा दर्जन गाड़ियां

26
SHARE

जींद

नरवाना रोड स्थित पाइप व प्लास्टिक दाना दो फैक्ट्रियों में शार्ट सर्किट से बीती रात आग लग गई। आग इतनी भीषण थी कि आधा दर्जन फायर ब्रिगेड गाडी 10 घंटे तक आग से जूझती रही। रविवार को जब तक आग पर काबू पाया जाता तब तक लाखों रुपये कीमत के पाइप, प्लास्टिक दाना, दोनों फैक्ट्रियों का साजों सामान जलकर राख हो चुका था। गनीमत यह रही कि किसी प्रकार की जन हानि नही हुई। दोनों फक्ट्रियों में लगभग 70 लाख रुपये का नुकसान आका जा रहा है। शहर थाना पुलिस मामले की जांच कर रही है। नरवाना रोड जींद-पटियाला नेशनल हाइवे पर बनी किसान पाइप फैक्ट्री तथा प्लास्टिक फैक्ट्री में बीती रात देर रात ट्रांस्फार्मर में शार्ट सर्किट होने के कारण आग भडक उठी। जिसमें कुछ क्षण में विकराल रूप धारण कर लिया। दोनों फैक्ट्रियों में मौजूद लेबर ने आग पर काबू पाने की कोशिश की, लेकिन आग तेजी से फैलती चली गई। हालातों के बेकाबू होने पर आग की सूचना पुलिस तथा फायर ब्रिगेड को दी गई। मौके पर पहुंची फायर ब्रिगेड की दो गाडियों ने आग पर काबू पाने की कोशिश की, लेकिन आग पर काबू नहीं पाया जा सका। आखिरकार नरवाना तथा उचाना से फायर ब्रिगेड की और गाडियों को बुलाया गया, जो रातभर आग से जूझती रही। प्लस्टिक पाइपों के जलने से उठने वाले धूएं से फायर ब्रिगेडकर्मियों तथा आसपास की बस्तियों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा।

रविवार सुबह आग पर काबू पाया रविवार सुबह आग पर काबू पाया जा सका। जब तक आग पर काबू पाया जाता, तब तक दोनों फैक्ट्रियों में तैयार तथा वहां रखा कच्चा माल के साथ-साथ जलकर राख हो चुकी थी। आग के कारण दोनों फैक्ट्रियों में लगे बिजली ट्रांसफार्मर भी आग की भेंट चढ़ गए। फैक्ट्री मालिक गांव काकडोद निवासी रमेश ने बताया कि उसने नरवाना रोड पर किसान पाइप के नाम से फैक्ट्री लगाई हुई है। उसके बगल में उसके छोटे भाई सतीश का प्लास्टिक उद्योग है, जिसमें प्लास्टिक दाना तैयार किया जाता है। प्लास्टिक उद्योग में रखे बिजली ट्रांस्फार्मर में शार्ट सर्किट से निकली चिंगारी कच्चे प्लास्टिक माल पर जा पडी। जिसके बाद आग फैलती चली गई और उसकी पाइप फैक्ट्री तक जा पहुंची। जिसमें फैक्ट्री में रखा तैयार तथा कच्चा माल व मशीनें जलकर राख हो गई। दोनों फैक्ट्रियों मेंरखे ट्रांस्फार्मर भी पूरी तरह जल गए। पटियाला चौंक चौंकी प्रभारी रामानंद ने बताया कि सूचना मिलते ही वें मौके पर पुलिसबल के साथ पहुंच गए थे। फायर ब्रिगेड की गाडियां भी मौके पर पहुंच गई थी। जल रहे प्लास्टिक से उठने वाले धूंए और आग की लपटों के कारण आग बुझाने में काफी दिक्कत का सामना करना पडा। फिलहाल मामले की जांच की जा रही है।

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करेSubscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal