बांध तोड़ने पर फायरिंग,2 गांवों के ग्रामीण आमने-सामने

633
SHARE

फतेहाबाद।

घग्गर पर बने बांध को तोड़ने को लेकर ग्रामीणों ने फायरिंग कर दी। ये ग्रामीण गांव मूसाखेड़ा के हैं। फायरिंग का पता चलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और स्थिति को कंट्रोल किया। पुलिस जांच के मुताबिक फतेहाबाद में मूसाखेड़ा और ढाणी बबनपुर गांव के बीच एक बांध बना हुआ है।

रविवार शाम को अंधेरे में ढाणी बबनपुर के ग्रामीणों ने बांध को तोड़ दिया। इसका पानी मूसाखेड़ा गांव की तरफ आना था। जहां पहले से पानी भरा हुआ है। इसका पता चलते ही मूसाखेड़ा के ग्रामीण वहां पहुंच गए और एक व्यक्ति ने दूसरे गांव वालों को ललकारते हुए दोनाली से 2 फायर कर दिए। जिसके बाद सामने खड़े लोग भाग गए। फिर पुलिस मौके पर पहुंची। दोनों गांवों के लोगों से बात की गई और बांध को फिर से जोड़ दिया गया।

सिरसा में 6 जगहों पर बांध टूटा

वहीं सिरसा के मीरपुर व सहारणी के पास नदी का बांध 3 जगह से टूट गया। इससे 16 और गांवों की 5 हजार एकड़ फसल में पानी फैल गया। 48 घंटे में नदी का बांध 6 जगह से टूट चुका है। इससे कुल 24 गांवों की 8 हजार एकड़ से ज्यादा फसल डूब चुकी है। कई गांवों में से लोगों ने पलायन भी शुरू कर दिया है।

इसके साथ करनाल के लालूपुरा में बाढ़ का खतरा बढ़ता जा रहा है। यहां यमुना नदी से लगातार कटाव हो रहा है। लोग डरे हुए हैं। हरियाणा में आज से मानसून फिर एक्टिव हो गया है। चंडीगढ़ मौसम विभाग ने राज्य के सभी 22 जिलों में बारिश का यलो अलर्ट जारी किया है। उत्तर हरियाणा के चार जिले पंचकूला, अंबाला, यमुनानगर और कुरुक्षेत्र में मौसम विभाग ने भारी बारिश की चेतावनी जारी की है।

फतेहाबाद में घग्गर का पानी ओवरफ्लो होने से टोहाना, जाखल, रतिया इलाके के 79 गांवों की करीब 69 हजार एकड़ फसल तबाह हो चुकी है। जाखल मंडी में हैफेड के गोदामों के बाहर जलभराव हो गया। अब पानी फतेहाबाद की तरफ बढ़ रहा है। यह देर रात तक शहर के बाइपास तक पहुंच गया। रेस्क्यू के लिए प्रशासन ने आर्मी की 4 टुकड़ी बुलाई हैं। आर्मी की इंजीनियरिंग व हेल्थ टीम भी बुलाई गई हैं।

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करेSubscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal