21 राज्यों की 102 सीटों पर वोटिंग,मणिपुर में फायरिंग

36
SHARE

नई दिल्ली।

लोकसभा के फर्स्ट फेज में 21 राज्यों-केंद्र शासित प्रदेशों की 102 सीटों पर वोटिंग जारी है। सीटों के हिसाब से यह सबसे बड़ा फेज है। वोटिंग शाम 6 बजे तक चलेगी। वोटर टर्नआउट ऐप के मुताबिक, दोपहर एक बजे तक सबसे ज्यादा वोटिंग त्रिपुरा में 68.35% हुई। सबसे कम वोटिंग बिहार में 39.73% हुआ। 21 राज्यों में वोटिंग का एवरेज 53% है। वोटिंग के दौरान मणिपुर के बिष्णुपुर में फायरिंग, बंगाल के कूचबिहार में हिंसा और छत्तीसगढ़ के बीजापुर में ग्रेनेड ब्लास्ट हुआ है। ब्लास्ट में एक असिस्टेंट कमांडेंट और जवान घायल हैं। मणिपुर की दो लोकसभा सीटों (मणिपुर इनर और मणिपुर आउटर) पर भी इस फेज में वोटिंग है। हिंसा को देखते हुए आउटर सीट के कुछ हिस्सों में 26 अप्रैल को भी वोटिंग होगी।

2019 में इन 102 लोकसभा सीटों पर भाजपा ने 40, DMK ने 24, कांग्रेस ने 15 सीटें जीती थीं। अन्य को 23 सीटें मिली थीं। इस फेज में अधिकतर सीटों पर मुकाबला इन्हीं 3 दलों के बीच है। फर्स्ट फेज में 1,625 कैंडिडेट्स चुनाव लड़ रहे हैं। इनमें 1,491 पुरुष, 134 महिला कैंडिडेट हैं। 8 केंद्रीय मंत्री, एक पूर्व मुख्यमंत्री और एक पूर्व राज्यपाल भी इस बार चुनाव मैदान में हैं। इस फेज के बाद 26 अप्रैल को दूसरे फेज की वोटिंग होगी। कुल 7 फेज में 543 सीटों पर 1 जून को मतदान खत्म होगा। सभी सीटों के रिजल्ट 4 जून को आएंगे।

कांग्रेस का आरोप- पुलिस के सामने हमारे एजेंट्स को खदेड़ा जा रहा

मणिपुर में फायरिंग, बूथ कैप्चरिंग और EVM में तोड़फोड़ की खबरों के बीच कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि उनके बूथ एजेंट्स को पुलिस के सामने भगाया जा रहा है। मणिपुर कांग्रेस के उपाध्यक्ष देब्रत सिंह ने कहा कि ये सब राज्य सरकार करवा रही है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस कई मतदान केंद्रों पर पुनर्मतदान की अपील करेगी। सुरक्षाकर्मियों के साथ कांग्रेस उम्मीदवार की बहस पर टिप्पणी करते हुए देब्रता ने कहा कि यह घटना खुद पुलिस अधिकारियों द्वारा चुनाव आचार संहिता का खुला उल्लंघन था।

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करे ubscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal