हरियाणा की गौरव गाथा के बारे में युवा पीढ़ी को जानकारी होना जरूरी: डीसी

100
SHARE
प्रदर्शनी के माध्यम से 1857 के स्वतंत्रता संग्राम में हरियाणा के योगदान को दिखाया गया है
स्थानीय लघु सचिवालय स्थित सरल केंद्र में सूचना, जनसंपर्क एवं भाषा विभाग ने अभिलेखागार विभाग ने लगाई आजादी के अमृत महोत्सव के तहत प्रदर्शनी
Bhiwani Halchal  07 मार्च।          आजादी के अमृत महोत्सव की श्रृंखला में सूचना, जनसंपर्क एवं भाषा विभाग ने अभिलेखागार विभाग के सहयोग से स्थानीय लघु सचिवालय परिसर स्थित सरल केंद्र में सोमवार से तीन दिवसीय प्रदर्शनी लगाई है। प्रदर्शनी के माध्यम से देश की आजादी के लिए 1857 के स्वतंत्रता संग्राम में हरियाणा योगदान को दर्शाया गया है। उपायुक्त आरएस ढिल्लो ने इस प्रदर्शनी का शुभारंभ किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि  युवा पीढी को हरियाणा की गौरवगाथा के बारे में जानकारी होना जरूरी है तो वे हमारे महान स्वतंत्रता सेनानियों/वीरों से प्रेरणा ले सकें। प्रदर्शनी को लेकर लोगों में रोचकता बनी और लोगों ने बड़े ही चाव के साथ प्रदर्शनी का अवलोकन किया। यह प्रदर्शनी नौ मार्च तक शाम चार बजे तक रहेगी।
अपने संदेश में उपायुक्त श्री ढिल्लो ने कहा कि देश की आजादी में 1857 का संग्र्राम पहला ऐसा स्तंभ रहा है, जिसने देश की आजादी का बिगुल बजाया। इसके पश्चात देशभर का युवा वर्ग में देश की आजादी के लिए आगे आया और स्वतंत्रता आंदोलन में लगे महान स्वतंत्रता सेनानियों के साथ में खड़ा हुआ। उन्होंने कहा कि देश की आजादी में हर वर्ग के लोगों का योगदान रहा है, जिसको जानना जरूरी है। इसी के चलते आजादी के अमृत महोत्सव के तहत सरकार के निर्देशानुसार जिला मुख्यालय पर प्रदर्शनी लगाई जा रही है ताकि हर नागरिक अपने वीरों व स्वतंत्रता संग्राम में अपना योगदान देने वालों को जान सके। इस दौरान नगराधीश विजय कुमार यादव भी मौजूद रहे।