सिविल अस्पतालों में गड़बड़ी का खुलासा, अच्छा व्यवहार नही करने में भिवानी के डॉ का भी नाम

528
SHARE

चंडीगढ़।

हरियाणा के सरकारी अस्पतालों में स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट में गड़बड़ी का खुलासा हुआ है। सिविल अस्पतालों में तैनात 24 डॉक्टरों ने अपने प्राइवेट अस्पताल खोले हुए हैं। सिविल अस्पताल में आने वाले मरीजों को वह अपने ही अस्पताल में रेफर कर रहे हैं। कई अस्पतालों में डॉक्टरों का मरीजों के प्रति व्यवहार ठीक नहीं है। एक सिविल अस्पताल में डॉक्टर ऑपरेशन के बदले पैसे भी ले रहे हैं।

हरियाणा में 11 अस्पताल ऐसे हैं, जहां स्वास्थ्य सुविधाओं में कमी मिली है। उनमें नारायणगढ़, दादरी, जींद, असंध, नीलोखेड़ी, कलानौर, महम, सिरसा, डबवाली, ऐलनाबाद व सोनीपत में अल्ट्रासाउंड की सुविधा नहीं है।

इसके अलावा 25 जनरल अस्पताल नारायणगढ़, दादरी, फतेहाबाद, सोहना, हिसार, झज्जर, बहादुरगढ़, जींद, कैथल, असंध, नीलोखेड़ी, कुरुक्षेत्र, नारनौल, मांडीखेड़ा नगीना, पलवल, पानीपत, समालखा, रेवाड़ी, रोहतक, कलानौर, सिरसा, डबवाली, ऐलनाबाद, सोनीपत व यमुनानगर में MRI की सुविधा नहीं है।

स्वास्थ्य डायरेक्टर की रिपोर्ट में यह भी खुलासा किया गया है कि 24 ऐसे डॉक्टर्स हैं, जिन्होंने अपने पति या पत्नी के नाम पर प्राइवेट अस्पताल खोला हुआ है। इन अस्पतालों में दोनों मिलकर प्राइवेट प्रैक्टिस करते हैं। इस रिपोर्ट में डॉक्टरों के नाम के साथ ही उनके अस्पतालों की भी पूरी डिटेल दी हुई है। डॉक्टरों ने अंबाला, चरखी दादरी, बल्लभगढ़, फरीदाबाद, फतेहाबाद, गुरुग्राम, हिसार, हांसी, जींद जिलों में अपने अपने बड़े प्राइवेट अस्पताल खोले हुए हैं।

सिविल अस्पताल सोनीपत में तैनात डॉ . प्रदीप लाकड़ा के अपनी सीट पर नहीं बैठने के कारण लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। सिविल अस्पताल सोहना में सुविधाओं की कमी के चलते डॉक्टरों द्वारा मरीजों को सिविल अस्पताल सेक्टर- 10 गुरुग्राम में रेफर कर दिया जाता है। यह अस्पताल सोहना से करीब 25 किलोमीटर दूर है, जिस कारण मरीजों को काफी परेशानी होती है।

रिपोर्ट में बताया गया है कि सिविल अस्पताल हिसार में तैनात डॉ. रामअवतार शर्मा फिजिशियन तथा सिविल अस्पताल कैथल में तैनात डॉ. आशीष मित्तल का मरीजों के प्रति व्यवहार ठीक नहीं है। सिविल सर्जन को लिखे गए पत्र में कहा गया भिवानी, चरखी दादरी, हिसार, हांसी, कैथल, पंचकूला, सोनीपत, नागरिक अस्पताल में तैनात डॉक्टरों का व्यवहार मरीजों के साथ ठीक न होने की शिकायत मिली है। सिविल अस्पताल पलवल में डॉक्टर ऑपरेशन करने की एवज में पैसे लेते हैं।

स्वास्थ्य डायरेक्टर की रिपोर्ट में यह भी खुलासा किया गया है कि 24 ऐसे डॉक्टर्स हैं, जिन्होंने अपने पति या पत्नी के नाम पर प्राइवेट अस्पताल खोला हुआ है। इन अस्पतालों में दोनों मिलकर प्राइवेट प्रैक्टिस करते हैं। इस रिपोर्ट में डॉक्टरों के नाम के साथ ही उनके अस्पतालों की भी पूरी डिटेल दी हुई है। डॉक्टरों ने अंबाला, चरखी दादरी, बल्लभगढ़, फरीदाबाद, फतेहाबाद, गुरुग्राम, हिसार, हांसी, जींद जिलों में अपने अपने बड़े प्राइवेट अस्पताल खोले हुए हैं।

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करे Subscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal