अंबाला में कार नहर में डूबी, मां-बाप, 2 बच्चे मरे

208
SHARE

अंबाला।

नहर में डुबकर एक ही परिवार के 4 सदस्यों की मौत की गुत्थी अभी अनसुलझी है। यह हादसा है या खुदकुशी ? अभी संशय बना हुआ है। पुलिस प्राथमिक दृष्टि से इसे खुदकुशी मान रही है।

क्योंकि प्रत्यक्षदर्शी ने पुलिस को बताया है कि रविवार को हादसे से पहले कुलबीर ने अपनी कार नहर के पास 15 मिनट रोकी थी। यहां कुलबीर की उसकी पत्नी के साथ बहस भी हुई थी। इसके बाद दोनों गुस्से में कार में बैठे और नहर में कूदा दिया।

 नन्यौला पुलिस चौकी ने सोमवार शाम करीब साढ़े 5 बजे नरवाना ब्रांच से मारूती 800 गाड़ी निकाली थी, जिसमें पंजाब के लालडू थाना के अंतर्गत आने वाले गांव टिवाना निवासी 40 वर्षीय कुलबीर, उसकी पत्नी कमलजीत कौर, 16 वर्षीय बेटी जश्नप्रीत कौर और 11 वर्षीय खुशदीप के शव बरामद हुए थे। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर मोर्चरी हादस में रखवा दिया था। आज डॉक्टरों का पैनल शवों का पोस्टमार्टम करेगा।

पुलिस के मुताबिक, कुलबीर अपने परिवार के साथ पंजाब के शंभू के पास स्थित कबूलपुर ससुराल जा रहा था। इससे पहले वह गुरुद्वारा जंडमंगौली भी गए थे। यहां उनके रिश्तेदार रहते हैं।सोमवार को नन्यौला पुलिस चौकी पहुंचे गलौर गांव के युवक ने पुलिस को सूचना दी थी कि रविवार सुबह करीब 11 बजे एक गाड़ी नरवाना ब्रांच में गिरी है, जिसकी सूचना पर पुलिस ने गोताखोरों की मदद से करीब ढाई घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद गाड़ी को नहर से निकाला।

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करेSubscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal