दिवाली पर तिरंगी लाइटों से जगमगाएगा शहर: भवानी

188
SHARE

भिवानी।
खुशियों के त्यौहार दिवाली पर नगरपरिषद ने दो से तीन दिनों तक फुटपाथों पर बैठकर (फुटकर) सामान बेचने वाले लोगों को बड़ी राहत दी है। इन दिनों में फुटकर सामान बेचने वालों से तहबाजारी नहीं वसूली जाएगी। यह व्यवस्था केवल दो से तीन दिनों तक ही रहेगी। वहीं नगरपरिषद ने दुकानदारों को अपनी हद में ही रहने की हिदायत दी है। अगर किसी भी दुकानदार ने सामान निकालकर बाहर फुटपाथ या पट्टी से बाहर रखा तो उनका सामान जब्त तो होगा ही साथ में जुर्माना लगाने की प्रक्रिया भी की जाएगी।
पहली बार नगरपरिषद ने फुटपाथों पर बैठकर दिपावली के पूजन का सामान, फूल, माला, मूर्तियां,अन्य छोटा-मोटा सामान बेचने वाले विक्रेताओं को दो से तीन दिनों के लिए राहत दी है। इस दौरान नगरपरिषद उनसे  तहबाजारी नहीं वसूलेगी। अगर इससे ज्यादा दिनों तक कोई बैठने का प्रयास करेगा तो नप किसी भी सूरत में उस व्यक्ति को वहंा पर बैठकर सामान नहीं बेचने देगी। इस बारे में नगरपरिषद ने अपनी तैयारी पूरी कर ली है।
दुकानदारों ने सामान बाहर निकाला तो  होगी कार्रवाई
फुटकर सामान बेचने वालों को तो राहत दी है,लेकिन दुकानों से बाहर सामान निकालकर बेचने वाले दुकानदारों को चेताया है। जो भी दुकानदार दुकान से बाहर बैठकर सामान बेचता पाया गया तो नगरपरिषद उसके सामान को जब्त करेगी तथा उस पर जुर्माना भी लगाया जाएगा। चूंकि दुकानों से सामान बाहर निकाले जाने के बाद बाजार के रास्ते तंग हो जाते है। ऐसे में बार.बार जाम की स्थिति बनने लगती है। दिवाली पर्व पर इस समस्या से बचने के लिए नगरपरिषद ने इस तरह की नई व्यवस्था की है। दूसरी तरफ नगरपरिषद ने इस तरह के दुकानदारों से बचने के लिए टीमों का गठन किया है। वे दिनरात बाजार में गश्त करेगी और दुकानदारों को दुकानों से बाहर सामान बेचने से रोकेंगी।
हरेक लाइट को किया जा रहा है चेक
बताया जा रहा है कि दिवाली पर्व पर शहर को तिरंगा व अन्य तरह की लाइटों को जलाने की पूरी तैयारी चल रही है। नगरपरिषद की तकनीकी टीमें हर गली व कूचे पर जाकर प्रत्येक लाइट की बारीकी से जांच कर रही है। लाइट में फाल्ट मिलने पर तत्काल उसको दुरुस्त किया जा रहा है। नगरपरिषद गलियों के अलावा सडक़ों पर लगी तिरंगा लाइटों को भी दुरुस्त करवा रही है। ताकि दिपावली के दिन शहर की खुबसूरती को चार चांद लग सके।
फुटकर सामान बेचने वालों को मिलेगी रियायत:भवानी
नगरपरिषद के चेयरपर्सन प्रतिनिधि भवानी प्रताप सिंह ने बताया कि इस बार केवल दिवाली पर्व पर दो से तीन दिनों तक फुटपाथ पर सामान बेचने वालों से तह बाजारी नहीं ली जाएगी। बाद में किसी भी व्यक्ति को फुटपाथ पर बैठकर सामान नहीं बेचने दिया जाएगा। साथ ही उन्होंने बताया कि दुकानदारों को दुकानों के बाहर तय सीमा में ही सामान बेचने की अनुमति होगी। अगर इससे बाहर निकले तो सामान जब्त किया जा सकता है। क्योंकि सामान सडक़ों पर रखे जाने से रास्ते तंग हो जाते है और जिसकी वजह से जाम की स्थिति बन जाती है।

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करेSubscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal