किसान नेता सुरेश कोथ पर सरकारी ड्यूटी में बाधा डालने का केस दर्ज

71
SHARE

नारनौंद :

खराब फसलों के मुआवजे की मांग को लेकर खेड़ी चौपटा उपतहसील पर 16 मार्च को ताला लगाकर धरना दे रहे किसानों पर प्रशासन की तरफ से केस दर्ज किया गया है। खेड़ी चौपटा तहसील के नायब तहसीलदार प्रकाश वीर के बयान पर किसान नेता सुरेश कोथ सहित अन्य किसानों पर सरकारी ड्यूटी में बाधा डालने सहित अनेक धाराओं में केस दर्ज किया गया है। गौरतलब है कि 16 मार्च को हजारों की संख्या में किसान खेड़ी चौपटा पर एकत्रित होकर नारेबाजी करते हुए तहसील परिसर में पहुंचे थे। कर्मचारियों को एक घंटे का अल्टीमेटम देने के बाद उन्होंने तहसील भवन को खाली करवा कर तहसील के दोनों गेटों पर ताला लगा दिया था। तहसीलदार ने आरोप लगाया कि सुरेश कोथ ने महिलाओं को उकसाते हुए उनसे गेट पर ताला लगवाया है। उसके बाद 17 मार्च को सुबह 9 बजे जब तहसील कर्मचारियों ने ताला खोलने का प्रयास किया तो तहसील परिसर में धरना दे रहे सुरेश कोथ व अन्य लोगों ने उनको दोनों गेटों से ताला नहीं खोलने दिया। वही आगे भी तहसील के गेट से ताला नहीं ख़ोलने देने की धमकी दे रहे हैं। पुलिस ने नायब तहसीलदार के बयान पर सुरेश कोथ व अन्य के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज किया गया है। नायब तहसीलदार की शिकायत के आधार पर एक नामजद व अन्य के खिलाफ सरकारी काम में बाधा डालने व अन्य धाराओं के तहत केस दर्ज किया गया है। पुलिस मामले की गहनता से जांच कर रही है।

– कृष्ण कुमार, थाना प्रभारी नारनौंद

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करेSubscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal