हरियाणा-पंजाब के किसानों का धरना खत्म

97
SHARE

चंडीगढ़।

पंजाब हरियाणा के किसानों ने धरना खत्म करने का ऐलान कर दिया है। किसान नेताओं ने कहा कि पंजाब गवर्नर ने मीटिंग में MPS समेत दूसरी मांगों को पूरे करने का आश्वासन दिया है। किसान 26 नवंबर से मोहाली के एयरपोर्ट रोड के पास धरने पर बैठे हुए थे।

इससे पहले पंजाब सरकार ने सुबह किसानों को बातचीत के लिए बुलाया था। यहां कृषि मंत्री गुरमीत खुडि्डयां के सामने किसानों ने अपनी मांगें रखीं। किसानों की 19 दिसंबर को सीएम भगवंत मान से मीटिंग होगी। उसमें संबंधित विभागों के अफसरों को भी बुलाया जाएगा। इसके अलावा किसानों ने मीटिंग में CM के ट्वीट किसानों को प्रदर्शन के लिए लोग न मिलने पर आपत्ति जताई है।

वहीं, पंचकूला में किसानों ने राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय से मिलने के बाद धरना खत्म करने का ऐलान किया है। 11 दिसंबर को संयुक्त किसान मोर्चा हरियाणा के नेता मीटिंग कर रणनीति तैयार करेंगे। किसानों का कहना है कि वह तब तक इंतजार करेंगे।

पंचकूला में किसानों के महापड़ाव के दूसरे दिन किसान नेता राकेश टिकैत पहुंचे थे। जहां उन्होंने किसानों के साथ आंदोलन को लेकर चर्चा की। टिकैत ने कहा कि यदि सरकार किसानों की मांगों को गंभीरता से नहीं लेती है तो आंदोलन को और उग्र किया जाएगा। केंद्र सरकार हमेशा से ही किसानों की अनदेखी कर रही है, जिसको अब कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

पंचकूला में संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर किसान-मजदूर महापड़ाव में लगभग 15 किसान संगठन भाग ले रहे हैं। इनमें से कुछ मुख्य संगठन हरियाणा किसान मंच, BKU टिकैत, जय किसान आंदोलन, अखिल भारतीय किसान सभा, गन्ना किसान संघर्ष समिति, भारतीय किसान संघर्ष समिति, अखिल भारतीय किसान महासभा, राष्ट्रीय किसान मजदूर संघ, भारतीय किसान पंचायत, भारतीय किसान यूनियन आदि मिलकर महापड़ाव कर रहे हैं।

किसानों ने अपनी मांगों को पूरा कराने के लिए एकजुट होकर सरकार के साथ यह संघर्ष किया है। उनकी मुख्य मांगों में एमएसपी पर फसल खरीद की गारंटी, लखीमपुर खीरी हत्याकांड में शहीद हुए किसानों के लिए न्याय, पूर्ण कर्ज मुक्ति और प्राइवेट बिजली बिल रेड करो आदि 4 मांगें शामिल हैं। इन मांगों को लेकर किसान संगठनों ने आज से तीन दिनों के लिए धरना देने का निर्णय किया है।वहीं, प्रशासन ने सुरक्षा बढ़ाई है ताकि धरना शांति और अनुशासन में ही बना रहे। इस महापड़ाव से सामाजिक और राजनीतिक दृष्टि से भी कई सवाल उठ रहे हैं, जिसका पूरा समर्थन करना हमारी जिम्मेदारी है।

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करेSubscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal