सरकार की वादाखिलाफी को लेकर कुरुक्षेत्र में जुटी खापें : 15 दिनों में मांगों को लागू नहीं किया तो आंदोलन फिर से खड़ा किया जाएगा

48
SHARE

केंद्र सरकार की वादाखिलाफी को लेकर राष्ट्रीय सर्व खाप जन कल्याण मंच किसान संगठन की बैठक जाट धर्मशाला मेंं आयोजित की गई। बैठक में 35 खापों के प्रतिनिधियों ने भाग लिया। बैठक की अध्यक्षता सर्व खाप के राष्ट्रीय संयोजक एवं जन कल्याण मंच किसान संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष टेकराम कंडेला ने की। बैठक के बाद पत्रकारों से बातचीत करते हुए टेकराम कंडेला ने कहा कि संयुक्त किसान मोर्चा का एक साल तक शांतिपूर्वक आंदोलन चला। आंदोलन को समाप्त करने के लिए केंद्र सरकार से कुछ मांगों बारे सहमति बनी थी लेकिन उन मांगों को अभी तक पूरा नही किया गया। उन्होंने सरकार पर वादा खिलाफी का आरोप लगाया और सरकार को अल्टीमेटम देते हुए कहा कि मांगों को 15 दिनों तक लागू नही किया गया तो आंदोलन फिर से बड़े स्तर पर खड़ा किया जाएगा। टेकराम कंडेला ने कहा कि एमएसपी को कानूनी गारंटी दर्जा देने बारे कमेटी की कोई घोषणा नही की गई। किसान आंदोलन के दौरान देश व प्रदेश के किसानों पर दर्ज मुकदमे वापस नही लिए गए। कहा कि किसान आंदोलन के दौरान शहीद हुए किसानों को मुआवजा दिया जाए। लखीमपुरी घटना के दोषी गृह राज्य मंत्री को बर्खास्त किया जाए। बिजली संशोधन बिल व पराली जलाने के कानून का लिखित में जवाब दिया जाए। हिन्दू मैरिज एक्ट में संशोधन करके एक गांव-एक गोत्र में शादी पर रोक लगाई जाए। लड़कियों की शादी की उम्र 21 वर्ष करने बारे खापों में ऐतराज नही है परंतु मां-बाप की मर्जी होने पर शादी पहले करने की मंजूरी दी जाए। स्वामीनाथन रिपोर्ट को पूरी तरह से लागू किया जाए। चौधरी चरण सिंह व बंसीलाल की फोटो यूनिवर्सिटी के कलेंडर में लगाई जाए। टेकराम कंडेला ने चेताया कि यदि ये मांगे पूरी नही की गई तो आंदोलन दोबारा से खड़ा कर दिया जाएगा। भारतीय किसान मजदूर यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजेंद्र आर्य दादूपुर ने कहा कि सरकार अपने वादों को लेकर गंभीर नही है। सरकार ने अगर गंभीरता नही दिखाई तो पहले से भी व्यापक स्तर पर आंदोलन किया जाएगा।

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करेSubscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal