हरियाणा में BJP के कई MP-MLA के टिकट कटेंगे

326
SHARE

चंडीगढ़।

भारतीय जनता पार्टी (BJP) के कई सांसदों और विधायकों के टिकट कटेंगे। लोकसभा और विधानसभा चुनाव से पहले पार्टी वोटरों का मूड चेक रही है। इसके लिए पार्टी हाईकमान ने 5 बड़ी सर्वे एजेंसियां काम पर लगाई हैं।

एजेंसियां सूबे की हर लोकसभा और विधानसभा सीट पर ‘जीतने वाले’ टिकट के इच्छुक उम्मीदवार का मूल्यांकन कर रही हैं। इसके साथ नए चेहरों के पैनल बनेंगे।

पार्टी के सूत्रों ने कहा है कि एजेंसियां ​​वोटर के मूड, सिटिंग MP और MLA के 5 साल के प्रदर्शन, किसी विशेष सीट पर अन्य फेमस फेस और पार्टी के पास मौजूद अन्य विकल्पों के अलावा प्रमुख मुद्दों का आकलन कर रही हैं। जल्द ही रिपोर्ट पर केंद्रीय नेतृत्व मंथन शुरू करेगा।

नेताओं की पब्लिक मीटिंगों पर भी नजर
पार्टी के नेताओं का कहना है कि उनके काम की बारीकी से जांच की जा रही है, एजेंसियां हर चीज पर नजर बनाए हुए हैं। अगर पार्टी के नेताओं और मंत्रियों के द्वारा गांवों में पब्लिक मीटिंग की जा रही है तो उसमें उनके भाषण पर भी नजर रखी जा रही है। एजेंसी के पर्यवेक्षक इस बात पर भी नजर रख रहे हैं कि हम क्या बोलते हैं और जनता की प्रतिक्रिया क्या है?।

इसके साथ ही यह भी देखा जा रहा है कि मंत्री या नेता सोशल मीडिया पर कितना एक्टिव है। साथ ही उनकी पोस्ट की क्या प्रतिक्रिया मिल रही है। पार्टी के कुछ नेताओं ने बताया कि एजेंसियां यह भी चेक रही हैं कि उनके सोशल मीडिया अकाउंट पर कितने फॉलोअर्स हैं, यह जानने के लिए हमारे सोशल मीडिया अकाउंट्स पर बारीकी से नजर रखी जा रही है। पार्टी के नेताओं का कहना है कि हम पर अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने का जबरदस्त दबाव है।

सरकार के एक मंत्री ने बताया कि केंद्रीय नेतृत्व की ओर से निगरानी रखने और जीरो एरर रिजल्ट करने के लिए कई एजेंसियों को नियुक्त किया है। एजेंसियों के रिजल्ट में संबंधित नेता या मंत्री की रिपोर्ट में विरोधाभास होता है तो पार्टी दूसरी एजेंसियों को इसको क्रॉस चेक करा रही है। सूत्रों ने कहा कि पार्टी चुनाव की घोषणा होने और आदर्श आचार संहिता लागू होने तक पूरी तरह तैयार रहना चाहती है।

पार्टी के सूत्रों ने बताया कि विभिन्न स्तरों पर पार्टी नेतृत्व के साथ फीडबैक साझा किया जा रहा था, लेकिन इस दौरान सूबे की राजनीति में लगातार बदलाव हो रहे हैं। यही वजह रही कि जमीनी स्तर पर बदलती स्थिति के कारण सर्वेक्षण कराने और दोबारा सर्वे की जरूरत महसूस हुई। इसी के तहत पार्टी के नेतृत्व द्वारा दोबारा एजेंसियों से सर्वे कराया जा रहा है।

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करे Subscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal