पुलिस की शर्मनाक कारस्तानी:जिसने पैदा होते ही फेंक दी नवजात, उसी लड़की का निकाह कराने जा रही थी

90
SHARE

हरियाणा के पानीपत शहर के शिव नगर में बीती 17 जनवरी की सुबह मिले नवजात बच्ची के मामले में बैक टू बैक पुलिस की लापरवाही, मिलीभगत और ढीला रवैया सामने आ रहा है। जिस नवजात बच्ची को फेंकने के आरोपी मां-बाप को ढूंढने का काम पुलिस को करना चाहिए था, उसे एक समाजसेवी सविता आर्या ने तलाशा था। इसके बावजूद भी सविता आर्या ने इसका श्रेय पुलिस को दिया था, लेकिन पुलिस इस श्रेय को स्वीकार तो करने से रही, ब्लकि इस केस में लगातार पुलिसगिरी जमा रही है। कहते हैं न कि वर्दी कुछ भी कर सकती है।

अब पुलिस इस मामले में बहुत ही बड़ा घालमेल करने चली थी, मगर पुलिस के इन मंसूबों को एक बार फिर सविता आर्या ने फेल कर दिया। पानीपत के सिविल अस्पताल में नवजात बच्ची को फेंकने वाली अविवाहित मां को पुलिस ने अनफिट बताकर भर्ती किया। मंगलवार को उसे अस्पताल से छुट्‌टी दे दी गई है। इसके बाद पुलिस इस लड़की को ले जाकर आरोपी लड़के के साथ निकाह करा कर केस को रफा-दफा करने की तैयारी में थी। पुलिस पर आरोप है कि वे निकाह करवाने के बाद लड़की को लड़का पक्ष के साथ यूपी के मेरठ स्थित उसके होने वाली ससुराल में भेज देते, मगर पुलिस की जमी-जमाई फिल्डिंग धरी रह गई।

मंगलवार सुबह इस मामले में आरोपियों पर कड़ी कार्रवाई करवाने के लिए एसपी कार्यालय में एक लिखित शिकायत देकर आई। इसके बाद सिविल अस्पताल पहुंची। जहां पहुंच कर पता लगा कि लड़की को छुट्‌टी मिल गई है और पुलिस उसे ले जाकर निकाह करवाएगी। उन्होंने लड़की से बातचीत की तो उसने भी इस बात का कबुलनामा किया कि उसे छुट्‌टी मिल गई है और पुलिस उसका निकाह करवाएगी। लड़का पक्ष यूपी से पानीपत आ रहा है।

 

अपने आस-पास की खबरे देखने के लिए हमारा youtube चैनल Subscribe करेSubscribe करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे https://www.youtube.com/bhiwanihulchal